Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शिक्षक-नीति में भी व्यापक बदलाव के लिए प्रयास शुरू

नेशनल प्रोफेशनल स्टैंडडर्स फॉर टीचर्स (एनपीएसटी) और नेशनल मिशन फॉर मेंटरिंग प्रोग्राम मेम्बरशिप (एनएमएम) के विकास को लेकर मसौदा तैयार करने के लिए हितधारकों से 15 मई 2021 तक सुझाव आमंत्रित किए गए हैं।

नई शिक्षा नीति पर शिक्षकों और प्रधानाध्यापकों से मांगी राय, केंद्रीय मंत्री ने कहीं ये बात
X
नई शिक्षा नीति

Haryana : विद्यार्थियों के लिए नई शिक्षा नीति (Education Policy) बनाने के बाद अब अध्यापकों (Teachers) को इस शिक्षा नीति के अनुरूप तैयार करने के लिए शिक्षक-नीति में भी व्यापक बदलाव के लिए प्रयास शुरू कर दिए गए हैं।

एक सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि गत एक अप्रैल 2021 को केंद्र सरकार द्वारा जिस 'माईएनईपी2020' (MyNEP2020) मंच की शुरुआत की गई है उसके तहत नेशनल प्रोफेशनल स्टैंडडर्स फॉर टीचर्स (एनपीएसटी) और नेशनल मिशन फॉर मेंटरिंग प्रोग्राम मेम्बरशिप (एनएमएम) के विकास को लेकर मसौदा तैयार करने के लिए हितधारकों से 15 मई 2021 तक सुझाव आमंत्रित किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि डिजिटल परामर्श का यह अभ्यास शिक्षकों के शिक्षा-क्षेत्र में सतत एवं सकारात्मक बदलाव के लिए शिक्षक नीति पर दस्तावेज तैयार करने के लिए शिक्षक, शिक्षा से जुड़े पेशेवरों, शिक्षाविदों और अन्य हितधारकों की भागीदारी की परिकल्पना करता है। उन्होंने बताया कि विशेषज्ञ समिति परामर्श अवधि के दौरान एकत्र किए गए सुझावों की व्यापक समीक्षा करेगी और आखिर में सार्वजनिक समीक्षा के लिए मसौदा तैयार करेगी।

Next Story