Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शिक्षा विभाग करेगा विद्यार्थियों का मूल्यांकन

कक्षा तीन से नौ और ग्यारहवीं कक्षा के छात्र मूल्यांकन परीक्षा अवसर ऐप के माध्यम से ऑनलाइन देंगे। बोर्ड की 10वीं व 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों की परीक्षा स्कूल में ही ऑफलाइन मोड में होगी। कक्षा तीसरी से आठवीं तक परीक्षा 15 अंकों व नौंवी से बारहवीं कक्षा के लिए 20 अंकों की परीक्षा होगी।

शिक्षा विभाग करेगा विद्यार्थियों का मूल्यांकन
X

 विद्यार्थी (फाइल फोटो)

हरिभूमि न्यूज. झज्जर

शिक्षा विभाग द्वारा इस सत्र में पहली बार विद्यार्थियों का मूल्याकंन किया जाएगा। ई-लर्निंग के जिला नोडल अधिकारी डॉक्टर सुदर्शन पूनिया ने बताया कि कोरोना महामारी के चलते लंबे अरसे तक सभी विद्यालय बंद रहे हैं और प्राथमिक विद्यालयों को अभी तक खुलने के आदेशों का इंतजार है। ऐसे में शिक्षा विभाग ने विद्यार्थियों के मूल्यांकन की ठानी है। इसके लिए स्कूल शिक्षा निदेशालय ने दोबारा से डेटशीट जारी कर दी है। जोकि पहले एक फरवरी से शुरू होनी थी, लेकिन प्रदेश में इंटरनेट सेवा बंद होने के कारण उस समय स्थगित कर दिया गया था।

उन्होंने बताया कि कक्षा तीन से नौ और ग्यारहवीं कक्षा के छात्र मूल्यांकन परीक्षा अवसर ऐप के माध्यम से ऑनलाइन देंगे। बोर्ड की 10वीं व 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों की परीक्षा स्कूल में ही ऑफलाइन मोड में होगी। कक्षा तीसरी से आठवीं तक परीक्षा 15 अंकों व नौंवी से बारहवीं कक्षा के लिए 20 अंकों की परीक्षा होगी।

24 घंटे तक उपलब्ध रहेंगे प्रश्नपत्र : जिला शिक्षा अधिकारी बीपी राणा और जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी दिलजीत सिंह ने संयुक्त रूप से बताया कि परीक्षा का शेड्यूल और दसवीं तथा बारहवीं के प्रश्न पत्र सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को भेज दिए गए हैं। शेड्यूल के मुताबिक परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न ही शामिल होंगे तथा दिसंबर तक करवाया गया पाठ्यक्रम ही परीक्षा में आएगा। अवसर एप पर मूल्यांकन परीक्षा के प्रश्न 24 घंटे तक उपलब्ध होंगे। सुबह आठ बजे से अगले दिन सुबह आठ बजे तक छात्र प्रश्नों को देख सकेंगे। ताकि विद्यार्थी अपनी सुविधा अनुसार अर्थात जिस समय उनके पास मोबाइल हो, वह उस समय परीक्षा दे सकें। इस संबंध मंे जिले के सभी बीईओ को व स्कूल मुखियाओं को भी अवसर एप के माध्यम से परीक्षा करवाना सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा अवसर एप के दौरान कठिनाई आने, विद्यार्थियों के विषय व उनकी डेटशीट उपलब्ध करवाने के निर्देश भी संबंधित अधिकारियों को दिए गए हैं।

दो रुपये प्रति विद्यार्थी प्रति पेपर खर्च : निदेशालय की ओर से जारी गाइडलाइंस के मुताबिक 10वीं व 12वीं के लिए पहले की तरह छात्र मूल्यांकन परीक्षा स्कूल में ही कराई जाएगी। इसके लिए विद्यालयों को सीसीडब्ल्यूएफ फंड में उपलब्ध राशि में से प्रति विद्यार्थी प्रति पेपर दो रुपए खर्च करने की अनुमति प्रदान की गई है।

Next Story