Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खुशखबरी : रोहतक में मई से दौड़ेंगी इकोफ्रैंडली सिटी बसें, 10 रुपये होगा किराया

Eco-friendly city buses will run in Rohtak from May the fare will be 10 rupees

खुशखबरी :  रोहतक में मई से दौड़ेंगी इकोफ्रैंडली सिटी बसें, 10 रुपये होगा किराया
X

पंकज भाटिया : रोहतक

शहर की सड़काें पर अब प्रदूषण रहित सिटी बसें मई महीने में दौड़ती नजर आएंगी। नगर निगम ने बसों के संचालन का ठेका दे दिया है और इतना ही नहीं रुट भी तय कर दिए गए हैं। हालांकि ठेका बीस बसों के संचालन का दिया गया है लेकिन ट्रायल के तौर पर पहले महीने पांच बसें चलाई जाएंगी। अगर इस दौरान यह ट्रायल सफल रहा तो फिर अगले महीने से ही बीस बसों के संचालन को हरी झंडी दे दी जाएगी। यात्रियों की जेब पर ज्यादा भार न पड़े इसके लिए किराया भी मात्र दस रुपये रखा गया है। फिलहाल बसों के लिए पांच रुट तय किए गए हैं। बसें नए बस स्टैंड से चलकर हिसार बाई पास, नए बस स्टैंड से होते हुए जींद बाईपास, नए बस स्टैंड से सुनारिया जेल, बोहर से हिसार बाई और बलियाणा से जींद बाईपास चौक तक चलेंगी।

मई के महीने में नगर निगम ने ट्रायल के तौर पर पांच बसों के संचालन को हरी झंडी दी है। इसके बाद बीस बसों के चलाने की अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा बसों में एक शिकायत पेटी भी रखी जाएगी। जिस पर संज्ञान नगर निगम लेगा। अगर किसी यात्री को किसी प्रकार की कोई परेशानी हो तो वह शिकायत पेटी में पत्र डाल सकता है। इतना ही नहीं बसों पर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ सहित स्वच्छता से संबंधित स्लोगन भी लिखे जाएंगे। ऐसा करने का उद्देश्य इस बारे में लोगों को जागरुक करना है।

16100 रुपये निगम को देने होंगे

जिस कंपनी को संचालन का ठेका दिया गया है, उसे हर महीने प्रति बस के हिसाब से 16100 रुपये नगर निगम में जमा करवाना होगा। वहीं बसों के संचालन के आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन थी, जिसके लिए पांच आवेदन आए थे। नगर निगम को प्रति महीने सबसे ज्यादा रुपये देने वाली कंपनी को ठेका दे दिया गया है।

संचालन पर बढ़ेंगे रुट

फिलहाल 5 बसों के संचालन के हिसाब से रुट तय किए गए हैं। इसके बाद अगर बीस बसों का संचालन शुरु किया गया तो रुट बढ़ाए जाएंगे। इसके लिए यह देखा जाएगा कि किस रुट पर फिलहाल ये बसें नहीं जा रही और यहां लाेगों को बसों के संचालन से सुविधा होगी या नहीं। निगम का उद्देश्य लोगों को सुविधा प्रदान करना है।

32 यात्री बैठेंगे

सभी बसें 32 सीटों वाली होंगी। साथ ही पर्यावरण संरक्षण के मद्देनजर सीएनजी बसों को चलाए जाने का निर्णय लिया गया है। नगर निगम बस चालने वाली कंपनी से फीस लेगा, बाकी सभी व्यवस्थाएं कंपनी को ही करनी सुनिश्चत करनी होंगी।

ये रहेगा रूट

> नए बस स्टैंड से हिसार बाईपास वाया शीला बाईपास, दिल्ली बाईपास, एमडीयू, पीजीआईएमएस, अशोका चौक, छोटूराम चौक, शांत माई चौक, ओल्ड बस स्टैंड

> नए बस स्टैंड से जींद बाईपास चौक वाया शीला बाईपास, दिल्ली बाईपास चौक, एमडीयू, पीजीआईएमएस, अशोका चौक, ओल्ड आईटीआई, झज्जर चुंगी, काठ मंडी, रेलवे स्टेशन, शांतमाई, ओल्ड गोहाना अड्डा, माता दरवाजा

> नए बस स्टैंड से सुनारिया जेल वाया सुखपुरा चौक, ओल्ड गोहाना अड्डा, झज्जर रोड, रेलवे स्टेशन, काठमंडी, झज्जर चुंगी, सुनारिया चौक, सुनारिया कलां

> बोहर से हिसार बाईपास चौक वाया शीला बाईपास, सोनीपत स्टैंड, अंबेडकर चौक, शांतमाई चौक, भिवानी स्टैंड, ओल्ड बस स्टैंड

> बलियाणा से जींद बाईपास चौक वाया खेड़ी साध, आईएमटी चौक, बाबा मस्तनाथ यूनिवर्सिटी, दिल्ली बाईपास चौक, छोटूराम चौक, ओल्ड गोहाना अड्डा, माता दरवाजा

बीस बसों काे चलाने ठेका दिया गया है। मई में फिलहाल ट्रायल के तौर पर पांच बसों का संचालन किया जाएगा। ट्रायल सफल रहा तो मई के बाद बीस बसों के संचालन की अनुमति दी जाएगी। इसके हिसाब से फिर रुट भी बढ़ाए जाएंगे। किराया दस रुपये रखा गया है। सीएनजी बसों के चलने से प्रदूषण नहीं होगा। सुरेंद्र गोयल, भू अधिकारी

Next Story