Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा में CRS पोर्टल की आईडी हैक, 7 दिन में जन्म के 147 और मृत्यु के 21 फर्जी रजिस्ट्रेशन किए गए

ऑनलाइन हैकिंग एवं फर्जी जन्म-मृत्यु रजिस्ट्रेशन होने से मची खलबली, साइबर हैकिग से जुड़ा यह मामला एक दिन पहले 30 नवंबर को दर्ज किया है।

Delhi Violence: उत्तराखंड सरकार के टूरिज्म विभाग की वेबसाइट हैक, कहा हमारे मुस्लिम भाइयों पर अत्याचार किया तो हम चुप नहीं बैठेंगे
X
प्रतीकात्मक फोटो

हरिभूमि न्यूज : नारनौल

महेंद्रगढ़ के नागरिक अस्पताल में जन्म एवं मृत्यु रजिस्ट्रार कार्यालय है। यहां जन्म-मृत्यु का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन सीआरएस पोर्टल से होता है। इस पोर्टल की आईडी अगस्त माह में हैक हो गई। सात दिन यह सीआरएस पोर्टल की आईडी हैंक रही। बाद में जब पासवर्ड रिसैट कर इसी आईडी को ओपन किया तो आंकड़े हैरान करने वाले थे। हैकिग के दौरान सात दिन में 'साइबर शातिर' ने जन्म के 147 व मृत्यु के 21 फर्जी रजिस्ट्रेशन सामने आए। मामला साइबर हैकिग से जुड़ा यह मामला एक दिन पहले 30 नवंबर को दर्ज किया है।

महेंद्रगढ़ अस्पताल में जन्म एवं मृत्यु रजिस्ट्रार कार्यालय के रजिस्ट्रार ने पत्र क्रमांक सीएच/एमजी/2021/691 के तहत महेंद्रगढ़ सिटी थाना में शिकायत दी है। शिकायत में बताया गया है कि संस्था के सूचना सहायक ने सीआरएस पोर्टल पर इसी साल अंतिम बार चार अगस्त को मृत्यु रजिस्ट्रेशन दर्ज किया गया था। तब तक पोर्टल पर जन्म रजिस्ट्रेशन नंबर 0बी-2021:6-90148-000477 व मृत्यु रजिस्ट्रेशन नंबर 0डी-2021:6-90148-000111 दर्ज था। दो दिन बाद छह अगस्त को दोबारा से जन्म-मृत्यु रजिस्ट्रेशन/सरल पोर्टल की अपलीकेशन के निपटारण के लिए सीआरएस पोर्टल पर सीआरएस आईडी को लॉगिन किया, तब स्क्रीन पर 'यूजर आईडी ऑर पासवर्ड इस रॉग' का मैसेज दिखाया गया। चार दिन बाद 10 व 11 अगस्त को नारनौल जिला रजिस्टार को ईमेल के माध्यम से सीआरएस-आईडी के लॉगिन नहीं होने बारे और आईडी लॉगिन करवाने बारे सूचित किया गया। इसके बाद 11 अगस्त को ईमेल के माध्यम से पासवर्ड रिसैट की सूचना प्राप्त हुई।

अगले दिन 12 अगस्त को सुबह ऑफिस पहुंचने पर सूचना सहायक की ओर से सीआरएस आईडी लॉगिन किया गया तो तब जन्म रजिस्ट्रेशन में 147 रजिस्ट्रेशन (बी-2021:6-90148-000478 से बी-2021:6-90148-000624) रजिस्टर पाए गए। वहीं मृत्यु रजिस्ट्रेशन में करीब 21 रजिस्टे्रशन (ड७ी-2021:6-90148-000112 से डी-2021:6-90148-000132) रजिस्टर ज्यादा पाए गए। ऐसे में ऑनलाइन हैकिंग एवं फर्जी जन्म एवं मृत्यु रजिस्ट्रेशन दर्ज करने अज्ञात लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए ताकि सीआरएस पोर्टल पर दर्ज फर्जी रजिस्ट्रेशन को डिलीट करवाने की आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा सके। इस शिकायत पत्र के साथ सूचना सहायक की ओर से लिखित में दिया गया पत्र, ईमेल की प्रति, स्कीन मैसेज एवं फर्जी दर्ज किए गए जन्म एवं मृत्यु रजिस्ट्रेशन की सूची भी दी गई है। शिकायत के आधार पर इनफोर्मेशन टेक्नोलॉजी (अमेंडमेंट) एक्ट-2008 की धारा 65,66,66सी और आईपीसी-1860 की धारा 419,420,469,468,471 के तहत महेंद्रगढ़ सिटी थाना में दर्ज किया गया है। केस दर्ज होने के बाद मामले की जांच पुलिस की साइबर सैल शाखा करेगी।

और पढ़ें
Next Story