Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जींद : सिटी ट्रैफिक प्रभारी सस्पेंड , डीएसपी करेंगे मामले की जांच, जानें क्यों गिरी गाज

विधायक के चालक के साथ सिटी ट्रैफिक प्रभारी (City traffic in charge) द्वारा लिया गया पंगा मंहगा पड़ गया। उनके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश (Order) भी दिए गए हैं। जिसकी जांच डीएसपी साधुराम को सौंपी गई है।

जींद : सिटी ट्रैफिक प्रभारी सस्पेंड , डीएसपी करेंगे मामले की जांच, जानें क्यों गिरी गाज
X

सिटी ट्रैफिक प्रभारी चरणजीत।

हरिभूमि न्यूज : जींद

विधायक के चालक के साथ सिटी ट्रैफिक प्रभारी द्वारा लिया गया कानून कायदों को लेकर पंगा मंहगा पड़ गया। डीआईजी कम एसपी ओपी नरवाल ने मामले पर संज्ञान लेते हुए सिटी ट्रैफिक प्रभारी चरणजीत को सस्पेंड कर उन्हें लाइन हाजिर कर दिया गया है। साथ ही उनके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश भी दिए गए हैं। जिसकी जांच डीएसपी साधुराम को सौंपी गई है।

रजवाहा संख्या सात रोहतक रोड रेलवे लाइन के साथ निजी होटल का उदघाटन करने के लिए वीरवार को भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, स्थानीय विधायक डा. कृष्ण मिढा गए हुए थे। ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर सिटी ट्रैफिक प्रभारी निरीक्षक चरणजीत सिंह की भी ड्यूटी लगाई गई थी। होटल के बाहर विधायक डा. कृष्ण मिढ़ा की गाड़ी खड़ी हुई थी। चरणजीत सिंह विधायक के चालक के पास पहुंचे और कानून कायदों को लेकर चालक से उलझ गए। अंदेशा जताया जा रहा था कि सिटी ट्रैफिक प्रभारी नशे में है।

अधिकारियों के मामला संज्ञान में आने पर डीएसपी धर्मबीर खर्ब सिटी ट्रैफिक प्रभारी चरणजीत सिंह को लेकर सामान्य अस्पताल पहुंचे और उनका मेडिकल करवाया। जिसके बाद रिपोर्ट भी अधिकारियों को सौंप दी गई। इसके अलावा भी अधिकारियों को चरणजीत के खिलाफ ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर शिकायतें मिली थी। शुक्रवार को डीआईजी कम एसपी ओपी नरवाल ने निरीक्षक चरणजीत सिंह को सस्पेंड कर लाइन हाजिर कर दिया। साथ ही विभागीय जांच के भी आदेश दिए हैं। जिसकी जांच डीएसपी साधुराम को सौंपी गई है।

डीएसपी धर्मबीर खर्ब ने बताया कि सिटी ट्रैफिक प्रभारी के खिलाफ शिकायत मिली थी। जिसके आधार पर उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है और विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं। जिसकी जांच डीएसपी साधुराम बिश्रोई करेंगे।

Next Story