Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिन बच्चों के अभिभावक कोरोना संक्रमित, उनकी देखभाल करेगा प्रशासन

जींद में विभाग ने जारी किए हैल्पलाइन नंबर, ले सकते हैं सहायता, खाने-पीने के साथ होगी मेडिकल जांच व काउंसलिंग भी।

हिमाचल में काेरोना संक्रमितों का आंकड़ा 18303 पहुंचा, गुरुवार को हुई पांच मौतें
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हरिभूमि न्यूज. जींद

जिला बाल संरक्षण ईकाई का मुख्य उद्देश्य माइग्रेटलेबर के बच्चों के साथ-साथ उन बच्चों का भी सुरक्षित व मुक्त वातावरण प्रदान करना है, जिनके माता-पिता कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के कारण या तो आइसोलेशन में है या अस्पताल में दाखिल हैं। ऐसे बच्चों की देखभाल करने वाला कोई नहीं है, ऐसे बच्चों को बाल गृह में आश्रय देकर, बच्चों की देखभाल की जिम्मेदारी, जब तक बच्चों के माता-पिता स्वस्थ नहीं हो जाते, तब तक उनके खाने पीने, मेडिकल, काउंसलिंग एवं अन्य सुविधाओं का प्रबंध विभाग द्वारा किया जाना है।

इन हैल्पलाइन नंबरों पर कर सकते हैं कॉल

जिला बाल संरक्षण अधिकारी सुजाता ने बताया कि विभाग द्वारा जारी चाइल्ड हैल्पलाइन नंबर-1098, बाल भवन जींद 9812413229, जिला बाल संरक्षण इकाई-9416513057, कलाम बाल आश्रम जींद 9416530961, टेलीफोन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं।

जिला बाल संरक्षण इकाई के द्वारा इस कार्य को बहुत ही बेहतर ढंग से करने के लिए सरकारी तंत्र से नागरिक अस्पताल जींद, हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद जींद ब्रांच के साथ-साथ प्राइवेट हॉस्पिटल एवं कुछ समाज सेवी संस्थाओं से भी संपर्क किया गया है, जिनमें जैन नसिंर्ग होम से डा. जिनेंद्र जैन द्वारा बच्चो को मुफ्त मेडिकल इलाज की सुविधा तथा कुछ समाज सेवी संस्थाओं द्वारा बच्चों के लिए भोजन, कपड़े व दवाइयों की सहायता दी जा रही है। यदि कोई समाज सेवी संस्था या सज्जन भी इस पावन कार्य में हमारे साथ जुड़ कर बेसहारा बच्चों के लिए कुछ करना चाहते हैं वे भी इन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं।

Next Story