Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हत्या या मौत : सोनीपत से खेलने निकला था बच्चा, झज्जर की नहर में मिला शव

सोशल मीडिया पर दी गई जानकारी के बाद मृतक कन्हैया के परिजन अस्पताल पहुंचे और मासूम के शरीर व पांव में पड़े काले डोरे से कन्हैया के शव की पहचान की।

हत्या या मौत : सोनीपत से खेलने निकला था बच्चा, झज्जर की नहर में मिला शव
X

पोस्टमार्टम के दौरान मौजूद मासूम कन्हैया के परिजन।

हरिभूमि न्यूज. झज्जर

गांव खरमाण से गुजर रही एनसीआर नहर की मोरी में लापता मासूम का शव फंसा हुआ मिला है। बताया जा रहा है कि मासूम 30 मार्च को सोनीपत जिले के गांव मटिंडू से लापता हुआ था और जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट खरखौदा थाना में दर्ज कराई गई थी। बाद में सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची और मामले की जानकारी लेते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। मृतक की पहचान करीब 11 वर्षीय कन्हैया निवासी गांव मटिंडू जिला सोनीपत के तौर पर की गई है।

कन्हैया तीस मार्च को अपने परिजनों को घर से खेलने की कह कर निकला था। लेकिन वह वापिस नहीं पहुंचा। बाद में उसकी गुमशुदगी की रपट परिजनों ने खरखौदा थाने में दर्ज कराई थी। लेकिन गत दिवस कंट्रोल रूम पर आई सूचना के बाद ही इस पूरे मामले का खुलासा हुआ। जांच अधिकारी के अनुसार कंट्रोल रूम पर आई सूचना में बताया गया था कि खरमाण गांव से निकल रही एनसीआर नहर की मोरी में एक शव फंसा हुआ है। सूचना के आधार पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को बाहर निकलवा कर उसकी पहचान कराने का प्रयास किया। लेकिन जब कोई जानकारी हासिल नहीं हो पाई तो शव को स्थानीय नागरिक अस्पताल में पहचान के लिए रखवाया गया। उधर, सोशल मीडिया पर दी गई जानकारी के बाद मृतक कन्हैया के परिजन यहां अस्पताल पहुंचे और उन्होंने मासूम के शरीर व पांव में पड़े एक काले डोरे से कन्हैया के शव की पहचान की। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। पुलिस द्वारा इस संबंध में नियमानुसार कार्यवाई अमल में लाई जा रही है।

Next Story