Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा में बिजली चोरों पर बड़ी कार्रवाई, दो दिन में 5508 केस पकड़े

बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने बताया कि अब तक 12.5 मेगावॉट से अधिक बिजली चोरी का खुलासा हो चुका है और डिफॉल्टरों पर लगभग 24 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

घरेलू बिजली कनेक्शन लगाना हुआ महंगा
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हरियाणा में लगातार दूसरे दिन भी प्रदेश व्यापी बिजली चोरी पकड़ अभियान जारी रहा। हरियाणा के बिजली मंत्री मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश में बिजली चोरी रोकने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इस दिशा में कुछ अरसा पहले भी हमने गोपनीय तरीके से पूरे प्रदेश में एक साथ छापेमारी के लिए सैकड़ों टीमों का गठन किया था इस बार भी बीते 2 दिनों में बिजली चोरी के 5,508 मामले सामने आए हैं ।

रणजीत सिंह ने बताया कि सीएम फ्लाइंग स्क्वायड, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम और उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधिकारियों के नेतृत्व में विजिलेंस और पुलिस कर्मियों की 507 टीमों का गठन कर छापेमारी का आदेश दिया था। मंत्री का कहना है कि पूरा अभियान पूरी तरह से गोपनीय रहे और 2 दिनों की मुहिम की जानकारी किसी को पहले ना लगे इस संबंध में हमने पूरी रणनीति बनाकर काम किया है। उन्होंने यह भी साफ कर दिया है कि चोरी के खिलाफ चलने वाली कार्रवाई की पूर्व सूचना देने कि कोई जानकारी मिली तो इस तरह के कर्मियों को बख्शा नहीं जाएगा। लगातार दूसरे दिन शनिवार को भी छापेमारी के दौरान मुर्गी फार्म, उद्योग, मोबाइल टावर, वाटर आरओ, पानी और दूध शीतलक संयंत्र, ईंट भट्टे, कोल्ड स्टोर और सडक़ किनारे स्थित ढाबों सहित 27,307 परिसरों की जांच की गई जिनमें से बिजली चोरी के 5,508 मामले सामने आए हैं।

रणजीत सिंह ने कहा कि छापेमारी के बाद बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर तुरंत प्रभाव से उनके बिजली कनेक्शन भी काटे गए । उन्होंने कहा कि अब तक 12.5 मेगावॉट से अधिक बिजली चोरी का खुलासा हो चुका है और डिफॉल्टरों पर लगभग 24 करोड़ का जुर्माना लगाया गया है। बिजली मंत्री ने बताया कि बिजली चोरी के मामलों का खुलासा होने से प्रदेश के बिजली विभाग के राजस्व में करोड़ों रुपये कीे वृद्धि होगी जिससे बिजली कटौती में कमी आएगी और वाणिज्य और घरेलू क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति बढ़ेगी। इसके साथ ही, उन्होंने कहा कि जिन स्थायी उपभोक्ताओं के बिजली कनेक्शन काटे गए हैं, वे जब अपना बकाया चुकाकर नए बिजली कनेक्शन लगवाएंगे तब इससे भी बिजली क्षेत्र में अधिक राजस्व आएगा। उन्होंने कहा कि इस छापेमारी के फलस्वरूप अन्य बिजली उपभोक्ताओं में भी बिजली चोरी न करने का संदेश जाएगा।

और पढ़ें
Next Story