Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अभय चौटाला बोले - क्या अजय दुष्यंत का इस्तीफा भी जेब में साथ लेकर जेल चले गए

इनेलो नेता ने कहा तीन मार्च को ऐलनाबाद में किसान महापंचायत होगी। उस दिन मेरे इस्तीफे के मायने पता चल जाएंगे। पूर्व विधायक जसविंदर के पुत्र गगनदीप संधू इनेलो में हुए शामिल।

अभय चौटाला बोले - क्या अजय दुष्यंत का इस्तीफा भी जेब में साथ लेकर जेल चले गए
X

पूर्व विधायक जसविंदर संधू के पुत्र गगनदीप संधू को इनेलो में शामिल करते अभय चौटाला।

चंडीगढ़। इंडियन नेशनल लोकदल के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने पूर्व विधायक जसविंदर संधू के पुत्र गगनदीप संधू को घर वापसी करवाते हुए इनेलो में शामिल किया। उन्होंने कहा कि जितना सम्मान उन्हें पहले मिला था उससे भी ज्यादा सम्मान देंगे। साथ ही आम आदमी पार्टी की सोशल मीडिया की प्रभारी रेनू राणा को भी पार्टी में शामिल किया।

अभय चौटाला ने भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि लॉकडाउन के दौरान नौ बड़े घोटाले किए गए जिसमें सिर्फ दो घोटालों की जांच की गई। एक रजिस्ट्री घोटाला और दूसरा शराब घोटाला। उनकी मांग शुरू से ही इन घोटालों की जांच सीबीआई से करने की रही है लेकिन सरकार ने लीपापोती करते हुए इनकी जांच सीबीआई को नहीं दी। रजिस्ट्री घोटाले पर उन्होंने बोलते हुए कहा कि जांच में तीन सौ से ज्यादा लोग दोषी पाए गए हैं। इस घोटाले में विभाग का मंत्री भी शामिल है। तहसीलदारों की नियुक्ति दलालों द्वारा पैसे लेकर की गई। शराब घोटाले में भी सरकार ने लीपापोती करते हुए एसआईटी के बजाय एसईटी द्वारा जांच की गई जिसके पास कोई अधिकार नहीं थे। इससे साफ साबित होता है कि मुख्यमंत्री आबकारी मंत्री को बचाना चाहते थे।

उनके इस्तीफे से किसानों पर पडऩे वाले असर पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि तीन मार्च को ऐलनाबाद में किसान महापंचायत होगी। वहां तिल फैंकने तक की भी जगह नहीं मिलेगी। उस दिन उनके इस्तीफे के मायने का पता चल जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता पुलिस के घेरे में निकलते हैं। पुलिस सुरक्षा के बगैर भाजपा के मंत्री घर से बाहर नहीं निकल सकते। अब लोग उन्हें शादी तो दूर दुख में भी अपने घर नहीं आने देंगे। उन्होंने कहा कि यह आंदोलन किसी खाप का नहीं है और न ही किसी जाति का है, यह आंदोलन पूरी दुनिया का आंदोलन है। उप-मुख्यमंत्री के इस्तीफे को उनके पिता अजय चौटाला द्वारा अपनी जेब में रखने के बयान पर बोले कि अजय चौटाला तो अब जेल में है, तो क्या इस्तीफा भी जेल में ले गए हैं? उन्होंने सरकार की गठबंधन पार्टी का नाम लिए बगैर कहा कि एक पार्टी बहुत तेजी से आगे बढ़ी थी लेकिन उतनी ही तेजी से उसका अंत भी हो गया है।



Next Story