Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

संयुक्त किसान मोर्चा ने गुरनाम सिंह चढूनी को बातचीत कमेटी के किया बाहर !

न पर राजनीतिक पार्टियों से मुलाकात और खुद अपनी तरफ से कार्यक्रम आयोजित करने का आरोप लगा है। उन्हें 19 जनवरी को को केंद्र सरकार से होने वाली बैठक से भी बाहर रखा जाएगा।

संयुक्त किसान मोर्चा ने गुरनाम सिंह चढूनी को बातचीत कमेटी के किया बाहर !
X
 गुरनाम सिंह चढूनी व अन्य। फाइल फोटो

Haryana : भारतीय किसान यूनियन (चढूनी) के प्रधान गुरनाम सिंह चढूनी को संयुक्त किसान मोर्चा ने बातचीत कमेटी से बाहर कर दिया है। सूत्रों के अनुसार उन पर राजनीतिक पार्टियों से मुलाकात और खुद अपनी तरफ से कार्यक्रम आयोजित करने का आरोप लगा है। वहीं उन्हें 19 जनवरी को किसानों और केंद्र सरकार से होने वाली बैठक से भी बाहर रखा जाएगा। वहीं गुरनाम सिंह चढू़नी ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज किया है। वहीं संयुक्त किसान मोर्चा ने इस बारे में स्पष्टीकरण का पत्र भी जारी


कुरुक्षेत्र जिला के उपमंडल शाहबाद के गांव चढूनी में रहने वाले भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी किसानों की आवाज लगातार उठाते रहते है। तीन कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली में किसानों को एकत्रित करने में गुरनाम सिंह चढूनी की अहम भूमिका रही है। गुरनाम सिंह चढूनी पर अब तक 34 मामले दर्ज हो चुके है। इनमें प्रदर्शन करने, शांति भंग करने, हत्या व हत्या का प्रयास के तहत मामले दर्ज किए गए है। किसान आंदोलनों के दौरान गुरनाम सिंह चढूनी कई बार जेल भी जा चुके है।

ग्रामीण पृष्ठभूमि में जन्म गुरनाम सिंह चढूनी का परिवार राजनीति में शुरू से ही सक्रिय रहा है। इनके पिता गांव चढूनी के सरपंच रह चुके है। गुरनाम सिंह चढूनी का छोटा भाई कर्म सिंह वर्तमान में गांव चढूनी का सरपंच है। इनका बड़ा भाई गुरदीप सिंह सिंह भी राजनीति में सक्रिय है। वर्ष 2014 में गुरनाम सिंह चढूनी की पत्नी बलविंद्र कौर ने आम आदमी पार्टी की टिकट पर कुरुक्षेत्र लोकसभा का चुनाव लड़ा था जिसमें वे हार गई थी। गुरनाम सिंह चढूनी ने वर्ष 2019 में लाडवा विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय चुनाव लड़ा था जिसमें वे हार गए थे।

Next Story