Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जेएनयू हिंसा पर बोलीं VC शांतिश्री- हम टुकड़े-टुकड़े... नहीं, स्वतंत्र यूनिवर्सिटी होने के नाते सभी को लोकतांत्रिक अधिकार है

जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) में नॉनवेज खाने को लेकर हुए विवाद पर वीसी (Vice Chancellor) शांतिश्री धूलिपुड़ी ( Shantisree Dhulipudi) पंडित का बयान सामने आया है।

जेएनयू हिंसा पर बोलीं VC शांतिश्री- हम टुकड़े-टुकड़े... नहीं, स्वतंत्र यूनिवर्सिटी होने के नाते सभी को लोकतांत्रिक अधिकार है
X

जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) में नॉनवेज खाने को लेकर हुए विवाद पर वीसी (Vice Chancellor) शांतिश्री धूलिपुड़ी ( Shantisree Dhulipudi) पंडित का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि मामले में प्रॉक्टोरियल जांच (Proctorial Investigation) के आदेश दे दिए गए हैं। रिपोर्ट आने के बाद निष्पक्ष जांच कराई जाएगी।

उन्होंने कहा कि फिलहाल रिपोर्ट का इंतजार है। कुलपति ने बताया कि 10 अप्रैल को रामनवमी (Ram Navami) पर हवन कराने को लेकर विवाद खड़ा हो गया था। यह दो गुटों के बीच का मामला है। प्रॉक्टोरियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं और हम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं, यह निष्पक्ष जांच होगी। वीसी शांतिश्री ने कहा कि जेएनयू (JNU) एक स्वतंत्र विश्वविद्यालय है। इसलिए हर किसी की पसंद का सम्मान किया जाता है।

उन्होंने कहा कि युवाओं की राय के साथ-साथ विविधता और असहमति की भी सराहना की जाती है। साथ ही उन्होंने साफ किया कि किसी भी मामले में हिंसा नहीं होनी चाहिए। वीसी शांतिश्री धूलिपुड़ी (Shantisree Dhulipudi) पंडित ने कहा कि मैं जनता की इस धारणा को ठीक करना चाहती हूं कि हम 'टुकड़े-टुकड़े...' हैं। ऐसा कुछ भी नहीं हैं। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में वीसी का पद संभालने के बाद उन्होंने किसी को इस तरह बात करते नहीं देखा।

उन्होंने स्पष्ट किया कि जेएनयू के लोग भी उतने ही राष्ट्रवादी हैं जितने कि अन्य। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि कुछ लोगों को कुछ महीनों की शांति का माहौल पसंद नहीं आया, इसलिए पूरा मामला शुरू हुआ। उन्होंने कहा कि मांसाहारी एक गैर-मुद्दा है, जेएनयू में हर किसी को अपने मन मुताबिक खाने का अधिकार है। यह उनका लोकतांत्रिक अधिकार (Democratic Rights) है। बता दें कि रविवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) में छात्र संगठन ABVP और वामपंथी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प हुई थी। इसमें दोनों संगठनों के छात्र घायल हो गए थे।

और पढ़ें
Next Story