Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Pollution Update: राजधानी में फिर से बढ़ा प्रदूषण का स्तर, विजिबिलिटी कम होने से राहगीर परेशान

Delhi Pollution Update: पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के वायु गुणवत्ता निगरानी प्रणाली 'सफर' के अनुसार दिल्ली में वायु प्रदूषण में पराली जलाने का योगदान कम होता जा रहा है। मौसम विभाग ने कहा कि न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है।

Delhi Pollution Update: राजधानी में फिर से बढ़ा प्रदूषण का स्तर, विजिबिलिटी कम होने से राहगीर परेशान
X

 राजधानी में फिर से बढ़ा प्रदूषण का स्तर

दिल्ली में प्रदूषण बढ़ने से धुंध की चादर छाई रही। जिसके कारण राजधानी में विज़िबिलिटी (दृश्यता) कम ही देखने को मिली। कुछ ऐसी ही तस्वीरें कश्मीरी गेट से आई जहां विजिबिलिटी कम होने से आवाजाही करने वाले राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ा। राजधानी में हवा की गति कम होने से प्रदूषण का स्तर एक बार फिर से बढ़ने लगा है।

दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में दर्ज की गई है। दिल्ली के लिए अच्छी बात है वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 101 से 200 बीच की दर्ज की गई। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार सोमवार को हवा की गति बेहद धीमी रहने का अनुमान है।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के वायु गुणवत्ता निगरानी प्रणाली 'सफर' के अनुसार दिल्ली में वायु प्रदूषण में पराली जलाने का योगदान कम होता जा रहा है। मौसम विभाग ने कहा कि न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है।

आपके जानकारी के लिए बता दें कि है कि शून्य से 50 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक 'अच्छा', 51 से 100 के बीच 'संतोषजनक', 101 से 200 के बीच 'मध्यम', 201 से 300 के बीच 'खराब', 301 से 400 के बीच 'अत्यंत खराब' और 401 से 500 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक 'गंभीर' श्रेणी में माना जाता है। दिल्ली में वायु गुणवत्ता में सुधार और साफ आकाश का प्रमुख कारण तेज हवाएं और पराली जलाने की घटनाओं में आयी भारी कमी है।

Next Story