Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Festival Season: कोरोना वायरस का खौफ, दिल्ली के बाजारों में नहीं दिख रही रौनक

पिछले साल तक लोग इसी अवधि में बाजारों में खूब खरीदारी करते नजर आते थे, चाहे वह मोमबत्ती हो, कलाकृति हो या फिर फर्नीचर ही क्यों ना हो। छोटे कारोबारी भी अच्छी कमाई कर लेते थे। लेकिन इस साल, कोविड-19 महामारी का असर कारोबार पर स्पष्ट रूप से दिख रहा है।

Delhi Festival Season: कोरोना वायरस का खौफ, दिल्ली की बाजारों में नहीं दिख रही रौनक
X

कोरोना वायरस का खौफ

दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले लगातार आ रहे है। दिल्ली के लोगों में कोरोना का खौफ दिख रहा है। और इसी के कारण दिल्ली की बाजारों से रौनक गायब है। त्योहार का सीजन चल रहा है ऐसे में लोगों का बाजारों में न आना कारोबारियों और दुकानदारों के लिए चिंता करने वाली बात है। पिछले साल तक लोग इसी अवधि में बाजारों में खूब खरीदारी करते नजर आते थे, चाहे वह मोमबत्ती हो, कलाकृति हो या फिर फर्नीचर ही क्यों ना हो। छोटे कारोबारी भी अच्छी कमाई कर लेते थे। लेकिन इस साल, कोविड-19 महामारी का असर कारोबार पर स्पष्ट रूप से दिख रहा है।

कोरोना वायरस संक्रमण का डर हर जगह

यह 2020 है और कोरोना वायरस संक्रमण का डर हर जगह है। दिवाली के अवसर पर आयोजित होने वाले मेले एक-एक कर रद्द हो रहे हैं। दिल्ली में कोविड-19 के मामले बढ़ रहे हैं। एक दिन में 5,000 से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं और शहर में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3.86 लाख के पार चली गई है। दशकों से आयोजित हो रहे सुंदर नगर मेला और ब्लाइंड स्कूल मेला को इस साल आयोजकों ने रद्द करने का निर्णय लिया है।

कई दुकानदारों ने ग्राहकों की सुरक्षा को लेकर दुकानें की बंद

ब्लाइंड रिलीफ एसोसिएशन के उप कार्यकारी सचिव सी पी मोहनन ने बताया कि दुर्भाग्यवश, महामारी के कारण इस साल हम मेला का आयोजन नहीं कर रहे हैं। सरकार के दिशानिर्देशों और हमारे ग्राहकों और कर्मचारियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हमने इस साल बाजार बंद ही रखने का निर्णय लिया। एसोसिएशन के लिए यह आसान फैसला नहीं था क्योंकि ये अपने परिसर में दृष्टिहीन बच्चों के लिए होस्टल भी चलाते हैं और यह बाजार धन जुटाने का बड़ा अवसर होता था और सालाना खर्चे का 40-50 फीसदी इसी से आ जाता था। सुंदर नगर मेला के आयोजकटिप्पणी के लिए उपलब्ध नहीं हो सके।

इस साल दिवाली से जुड़े बड़े बाजार नहीं लगेंगे

वहीं, दक्षिणी दिल्ली के सलेक्ट सिटी वॉक' मॉल के कार्यकारी निदेशक एवं सीईओ योगेश्वर शर्मा ने कहा कि इस साल दिवाली से जुड़े बड़े बाजार नहीं लगाए जाएंगे। इसके बदले छोटे-छोटे कार्यक्रम होंगे और इसका नाम हैशटैग सिटी साइन्स अगेन है। हालांकि, सभी सरकारी दिशानिर्देशों का पालन करते हुए दस्तकार दीपों का त्योहार और दिल्ली पर्यटन दिवाली मेला का आयोजन एक से 10 नवंबर के बीच (किसान हाट, अंधेरिया मोड़) में तथा चार से 14 नवंबर के बीच (दिल्ली हाट पीतमपुरा) में किया जाएगा।

Next Story