Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डॉक्टरों की हड़ताल पर CM केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, ट्वीट कर कही ये बात

देश की राजधानी दिल्ली के अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने डॉक्टरों पर पुलिस की बर्बरता की कड़ी निंदा की है। इस संबंध में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को पत्र भी लिखा है।

डॉक्टरों की हड़ताल पर CM केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, ट्वीट कर कही ये बात
X

देश की राजधानी दिल्ली के अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने डॉक्टरों पर पुलिस की बर्बरता की कड़ी निंदा की है। इस संबंध में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को पत्र भी लिखा है। साथ ही उन्होंने पीएम से उनकी मांगों को जल्द स्वीकार करने को कहा है। केजरीवाल ने मंगलवार को ट्वीट किया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि कोरोना फिर से बढ़ रहा है, उन्हें अस्पताल (Hospital) में होना चाहिए न कि सड़कों पर।

उन्होंने कहा केंद्र के डॉक्टर कई दिनों से हड़ताल पर हैं। इन्होंने कोरोना में अपनी जान की बाज़ी लगाकर सेवा की। कोरोना फिर बढ़ रहा है। इन्हें अस्पताल में होना चाहिए, ना कि सड़कों पर इन पर जो पुलिस बर्बरता की गई, हम उसकी कड़ी निंदा करते हैं। इसमें कई पुलिसकर्मी (Policeman) और डॉक्टर घायल हो गए। मार्च में शामिल कई डॉक्टरों को पुलिस ने हिरासत में लिया।

डॉक्टरों को हिरासत में लिए जाने पर दिल्ली एम्स आरडीए (AIIMS RDA) ने नाराजगी जताई। मार्च के दौरान डॉक्टरों ने पुलिस पर हमला करने और उन्हें हिरासत में लेने पर अपना आक्रोश व्यक्त किया। सोमवार शाम को डॉक्टरों ने सफदरजंग अस्पताल (Fadarjung Hospital) से फिर मार्च निकाला। वे गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मिलने जा रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें सरोजनी नगर थाने की ओर डायवर्ट कर दिया।

करीब डेढ़ हजार डॉक्टर थाने के सामने धरने पर बैठ गए और मारपीट करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते रहे। डॉक्टरों के मार्च से रिंग रोड पर रात आठ बजे से यातायात बाधित रहा। इससे लोगों को भी परेशानी का सामना करना पड़ा। डॉक्टरों ने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट तक मार्च करने के लिए इकट्ठे हुए थे। इस पर उसे पुलिस ने इंद्रप्रस्थ डाकघर के पास रोक लिया। जब वे नहीं रुके तो उन्हें पीटा गया और महिला डॉक्टरों से बदसलूकी की गई। उसे जबरन हिरासत में ले लिया गया। उनकी मांग थी कि ऐसा करने वाले पुलिसकर्मी सामने आएं और माफी मांगें।

और पढ़ें
Next Story