Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पत्नी पर करता था शक, पेट्रोल डालकर लगा दी आग, पत्नी जलते हुए बाथरूम में भागी...

युवक ने अपनी पत्नी पर चरित्र शंका को लेकर उसे आग के हवाले कर दिया। आग से घिरी महिला ने अपनी जान बचाने के लिए बाथरूम की तरफ भागी और खुद को बाथरूम में बंद कर नल के नीचे बैठ गई। लेकिन जब तक आग बुझती तब तक वह 50 प्रतिशत झुलस चुकी थी। क्या है पूरा मामला पढ़िये...

पत्नी पर करता था शक, पेट्रोल डालकर लगा दी आग, पत्नी जलते हुए बाथरूम में भागी...
X

भिलाई। भिलाई में एक युवक ने अपनी पत्नी पर चरित्र शंका को लेकर उसे आग के हवाले कर दिया। आग से घिरी महिला अपनी जान बचाने के लिए बाथरूम की तरफ भागी और खुद को बाथरूम में बंद कर नल के नीचे बैठ गई। लेकिन जब तक आग बुझती तब तक वह 50 प्रतिशत झुलस चुकी थी। उसकी चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी दौड़कर मौके पर पहुंचे और उसे बाथरूम से अधजली हालत में बाहर निकालकर तुंरत लाल बहादुर शास्त्री शासकीय अस्पताल लेकर गये। वहां इलाज के बाद डॉक्टरों ने महिला को रायपुर रेफर कर दिया। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

सुपेला टीआई ने बताया कि फरीदनगर निवासी साजिद खान गुरुवार दोपहर अपने घर पहुंचा और पत्नी पर चरित्रहीन होने का आरोप लगाते हुए उससे झगड़ा करने लगा। उसकी पत्नी नाजनीन निशा ने उसे काफी समझाया, लेकिन वह नहीं माना। इससे दोनों के बीच झगड़ा काफी बढ़ गया। पति गुस्से में आकर पत्नी से मारपीट करने लगा। इसके बाद वह घर में रखा पेट्रोल लेकर उसके ऊपर उड़ेल दिया। इसके बाद उसने माचिस से आग लगा दी। देखते ही देखते नाजनीन आग की लपटों में घिर गई और चीखते-चिल्लाते हुए बाथरूम के अंदर भागी और अपने आपको अंदर से बंद कर नल के नीचे बैठ गई। इससे आग तो बुझ गई, लेकिन नाजनीन अधिक झुलस जाने से वहीं बेहोश होकर गिर गई।

जिला अस्पताल में चल रहा उपचार

शोर-शराबा सुनकर पड़ोसी तुरंत साजिद के घर पहुंचे। उन्होंने नाजनीन को बाथरूम से बाहर निकाला और लाल बहादुर शास्त्री शासकीय अस्पताल ले गए। वहां डॉक्टरों ने उसका प्राथमिक उपचार करने के बाद उसे श्री शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। वहां भी डॉक्टरों ने जवाब दे दिया। इसके बाद नाजनीन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

Next Story