Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सूदखोरों से परेशान मेडिकल कारोबारी ने आरी से अपना गला रेता

मेडिकल कारोबारी ने अपना गला काटने की कोशिश की, कारोबारी ने अपना गला रेतने(slit his throat) के पहले एक पन्ने का सुसाइड नोट लिखा है, जिसमें सूदखोरों से परेशान होकर खुदकुशी करने (committed suicide)की बात का उल्लेख किया है। पढ़िए पूरी ख़बर...

सूदखोरों से परेशान मेडिकल कारोबारी ने आरी से अपना गला रेता
X

रायपुर: गंज थाना क्षेत्र के एक काराबोरी ने सूदखोरों से परेशान होकर आत्महत्या करने के उद्देश्य से कांच काटने वाली आरी से अपना गला रेत लिया।(slit his throat) घायल कारोबारी को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में दाखिल कराया गया है। कारोबारी ने अपना गला रेतने के पहले एक पन्ने का सुसाइड नोट लिखा है, जिसमें उन्होंने सूदखोरों से परेशान होकर खुदकुशी(committed suicide) करने की बात का उल्लेख किया है। वह किन सूदखोरों से परेशान हैं, इस बात का उल्लेख नहीं किया है, साथ ही उन पर कितना कर्ज है, इस बात का भी कारोबारी ने जिक्र नहीं किया है।

पुलिस के मुताबिक नहरपारा निवासी पेशे से मेडिकल कारोबारी कमल किशोर गोयल ने अपना गला काटने की कोशिश की। उन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस कारोबारी की हालत फिलहाल सामान्य बता रही है। कारोबारी ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि उसके परिवार में पांच सदस्य रहते हैं। सूदखोर कर्ज वसूल करने उसे तथा उसके परिवार के लोगों को परेशान कर रहे हैं। इस वजह से वह परेशान होकर अपना जीवन समाप्त कर रहा है। साथ ही उन्होंने अपने पत्र में प्रशासन से सूदखोरों से अपने परिवार को बचाने की मांग करते हुए उन्हें किसी तरह से परेशान नहीं करने का निवेदन किया है।

कई लोगों से लिया कर्ज

जानकारी के मुताबिक कमल किशोर ने कारोबार में नुकसान होने की वजह से कई लोगों के कर्ज ले रखा है। कमल किशोर पिछले आठ-दस वर्षों से मेडिकल कारोबार के क्षेत्र से जुड़े हुए हैं। सूदखोरों के नाम सामने नहीं आने की वजह से पुलिस कारोबारी का बयान लेने तथा मामले की जांच करने के बाद अपराध दर्ज करने की बात कह रही है।

Next Story