Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रधानमंत्री का संकल्प, गुमनाम शहीदों को करेंगे पुनर्जीवित: गृहमंत्री अमित शाह

जबलपुर में राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह के शहीद दिवस कार्यक्रम जनजातीय गौरव समारोह में गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि यहां से दिल्ली तक आवाज जानी चाहिए कि हम राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह को याद कर रहे हैं। अमर बलिदानी शंकर शाह और रघुनाथ शाह दोनों पिता-पुत्र को तोप से उड़ा दिया गया था, लेकिन दोनों के चेहरे पर शिकन नहीं थी। पढ़िए पूरी खबर-

प्रधानमंत्री का संकल्प, गुमनाम शहीदों को करेंगे पुनर्जीवित: गृहमंत्री अमित शाह
X

जबलपुर। देश के गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने संकल्प लिया है कि हम गुमनाम शहीदों को पुनर्जीवित करेंगे। जो इतिहास लिखा गया है, उसमें इनका नाम नहीं है। मैंने जबलपुर में 16 दिन रहकर पढ़ा। एक कविता के लिए किसी को बांधकर उड़ा दिया जाता है। यहां आकर पूरा अध्ययन किया। आज मेरा सौभाग्य है, जो मप्र सरकार ने शौर्य स्मारक बनाने का निर्णय लिया है, उसका मेरे हाथों शुभारंभ हो रहा है। उन्होंने कहा कि जनजाति संग्रहालय देशभर में बनाए जाएंगे। इसमें आजादी के दौरान जिन्होंने शहादत दी है, उसमें शामिल किया जाएगा। उनका इतिहास रखा जाएगा। 200 करोड़ से नौ संग्रहालय बनाए जाएंगे। देश भर में कई जिलों में, कई प्रदेशों में ऐसे अनेकोनेक वीर बलिदानी है, जिनको इतिहास में स्थान नहीं मिला, उचित सम्मान नहीं मिला। काल उसको भुला सकता है क्या? उनके बलिदान को हम भुला देंगे क्या?

गृहमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में छिंदवाड़ा में संग्रहालय बनाया जाएगा। ये जो स्मारक बनेगा, पूरे देशभर के युवाओं को प्रेरणा देगा। वीर रानी दुर्गावती ने भी मुगलों के सामने लड़ते हुए, देश की स्वतंत्रता के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर किया था। वही प्रेरणा लेकर राजा शंकर शाह और रघुनाथ शाह ने बलिदान दिया था।

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा जनजाति समाज का वोट लिया, लेकिन उनके कल्याण के लिए कभी कुछ नहीं किया। जनजाति वोटों में बंटवारा हो, ये प्रयास कांग्रेस करती आई है। जनजाति के लिए वार्षिक बजट 2013-14 में 4,200 करोड़ रुपये था। 2021-22 में इस बजट को बढ़ाकर 7,900 करोड़ रुपये, यानी करीब दोगुना करने का काम मोदी सरकार ने किया है। भाजपा हमेशा जनजातियों के कल्याण के लिए कटिबद्ध है और हमेशा इसके लिए प्रयासरत है। कांग्रेस के जमाने में 9 राज्यों की केवल 10 वन उपजों को एमएसपी के तहत कवर किया गया है। मोदी सरकार आने के बाद सभी राज्यों की 49 उपजों को एमएसपी पर खरीदने की शुरूआत हुई है।

गृहमंत्री शाह ने कहा कि बच्चे को अच्छी शिक्षा मिलेगी, तो संविधान प्रदत्त अधिकारों को वो जान पाएंगे। संविधान ने जो कर्तव्य दिए हैं, उनको वो जान पाएंगे। इसके लिए बहुत जरूरी है कि उसको अच्छी शिक्षा मिले। इसलिए मोदी जी ने एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय का मॉडल अपनाकर प्रत्येक आदिवासी बहुल ब्लॉक में एक आवासीय विद्यालय बनाने का काम किया है। भाजपा की सरकार चाहे केंद्र में हो या राज्य में, ये वंचितों के लिए काम करने वाली सरकार है। ये जनजाति के कल्याण के लिए समर्पित सरकार है।

इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि शहीदों को तोप के मुंह से बांधकर उड़ा दिया गया। शहीद शंकर शाह, रघुनाथ शाह को मौत की सजा दे दी गई। शहीदों ने अपना सब कुछ बलिदान कर दिया। आजादी के बाद सत्ता में आई कांग्रेस ने सिर्फ चंद लोगों का इतिहास बताया। राजा शंकर शाह रघुनाथ शाह समेत अनेक जन नायकों को भुला दिया, इतिहास में जगह नहीं दी।

इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जनजातीय महानायकों को नमन किया। उन्होंने मालगोदाम चौक स्थित अमर शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह को नमन किया। गृह मंत्री अमित शाह ने मंच से आदिवासियों पर केंद्रित एल्बम का विमोचन किया। इस दौरान शाह का तीर कमान भेंट कर अभिवादन किया गया। इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जनजातीय महानायकों को नमन किया। उन्होंने मालगोदाम चौक स्थित अमर शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह को नमन किया।

Next Story