Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मंत्री रविन्द्र चौबे बोले- उनके 15 साल के ब्लैक प्रिंट हमारे पास, वो हमसे पूछ रहे ब्लू प्रिंट कहाँ है...

लगातार हमसे सवाल पूछे जा रहे हैं. 15 साल के बाद उनकी कुंभकर्णी निद्रा भंग हुई है. हमारे मुख्यमंत्री से पूछा जा रहा कि ब्लूप्रिंट कहां है. 15 साल के उनके ब्लैक प्रिंट हमारे पास और जनता के पास हैं. 15 साल के भ्रष्टतम प्रशासन के काले कारनामे, काली करतूत, काली कारगुजारियां, काली कमाई का गोरखधंधा कोई भूल नहीं सकता. यही ब्लैकप्रिंट रहा है नाकामियों के महानायक का. जिसे इस देश की जनता ने देखा समझा और जाना.

प्रशासनिक फेरबदल की अटकलों से छत्तीसगढ़ सरकार के प्रवक्ता मंत्री रविंद्र चौबे का इनकार
X

मंत्री रविंद्र चौबे (फाइल फोटो)

रायपुर. 180 महीने बनाम 18 महीने के कार्यकाल को लेकर हो राजीव भवन में आज कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस लिया. प्रेस कॉन्फ्रेंस में कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि 15 साल की नाकामियों के नायक का धारावाहिक बयान चल रहा है. 18 महीनों के दौरान सरकार ने लगातार काम किया, लेकिन लगातार हमारे वादों को याद दिलाया जा रहा है.

लगातार हमसे सवाल पूछे जा रहे हैं. 15 साल के बाद उनकी कुंभकर्णी निद्रा भंग हुई है. हमारे मुख्यमंत्री से पूछा जा रहा कि ब्लूप्रिंट कहां है. 15 साल के उनके ब्लैक प्रिंट हमारे पास और जनता के पास हैं. 15 साल के भ्रष्टतम प्रशासन के काले कारनामे, काली करतूत, काली कारगुजारियां, काली कमाई का गोरखधंधा कोई भूल नहीं सकता. यही ब्लैकप्रिंट रहा है नाकामियों के महानायक का. जिसे इस देश की जनता ने देखा समझा और जाना.

मंत्री रविंद्र चौबे ने आगे कहा किदेश की जनता झीरम कांड को नहीं भेली. नसबंदी कांड को जनता नहीं भूली. ताड़मेटला और एड़समेटा को जनता नहीं भूली. एमओयू कर जमीनों को बेचने का मामला कोई नहीं भूला. कथित अश्लील वीडियो कांड इस सरकार का अंतिम कारनामा था.

कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि 15 साल के कार्यकाल में जितने घोटाले हुए उतने कभी नहीं हुए. 36000 करोड़ का नान घोटाला सामने आया था. धान घोटाला सामने आया, जिसमें कुनकुरी तक पाइप से राशन की आपूर्ति की गई. खदान घोटाला सामने आया, जिसमें खदान भेजे गए पनामा लिक का मामला सामने आया. पाठ्य पुस्तक निगम का घोटाला सामने आया, डीकेएस घोटाला, चिटफंड घोटाला ई टेंडर घोटाला, स्काईवाॅक घोटाला, एक्सप्रेसवे घोटाला, पुलिस भर्ती घोटाला, स्मार्ट कार्ड घोटाला, अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला जैसे कई घोटाले हुए.

Next Story