Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत सहित 10 देश हैं एनएसओ के ग्राहक, राहुल के दो नंबर भी हैक

जासूसी मामले में कांग्रेस लगातार हमलावर है। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव ने इसे लेकर अब केंद्र सरकार पर निशाना साध है। उन्होंने कहा कि इजराइल की सर्विलांस कंपनी एनएसओ ग्रुप के सॉफ्टवेयर पेगासस का इस्तेमाल कर केंद्र सरकार जासूसी करा रही है। जांच में यह बात सामने आया है कि 10 देश एनएसओ के ग्राहक हैं जिसमें भारत का नाम भी शामिल है।

भारत सहित 10 देश हैं एनएसओ के ग्राहक, राहुल के दो नंबर भी हैक
X

राहुल गांधी (फाइल फोटो)

जासूसी मामले में कांग्रेस लगातार हमलावर है। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव ने इसे लेकर अब केंद्र सरकार पर निशाना साध है। उन्होंने कहा कि इजराइल की सर्विलांस कंपनी एनएसओ ग्रुप के सॉफ्टवेयर पेगासस का इस्तेमाल कर केंद्र सरकार जासूसी करा रही है। जांच में यह बात सामने आया है कि 10 देश एनएसओ के ग्राहक हैं जिसमें भारत का नाम भी शामिल है। जासूसी में मोदी सरकार सम्मिलित है। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के दो मोबाइल नंबर उन भारतीय नंबरों में शामिल हैं जिसे पेगासस से जासूसी करने हैक किया गया है।

विकास उपाध्याय ने कहा है कि रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि राहुल गांधी के दो नंबरों को 2018 से 2019 के बीच लिस्ट में शामिल किया गया था। यह बहुत ही गंभीर मामला है। यही वो समय था जब मोदी सरकार ने गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा हटा दिया था। मेरा मानना है कि इससे राहुल गांधी की जान को भी खतरा हो सकता है। मोदी सरकार गांधी परिवार को तत्काल एसपीजी सुरक्षा मुहैया कराए। पूरे मामले में महत्वपूर्ण बात यह है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साल 2017 के इजराइल दौरे के साथ ही एनएसओ के सिस्टम में भारतीय नंबरों की एंट्री शुरू हुई।

जांच की मांग

विकास उपाध्याय ने पूछा कि क्या भारत सरकार एसएसओ ग्रुप की क्लाइंट है? इस सवाल पर सरकार ने हां या ना में जवाब नहीं दिया है। एमनेस्टी इंटरनेशनल की टेक लैब ने 67 डिवाइसों की फोरेंसिक जांच में पाया कि 37 फोन पेगासस का शिकार हुए थे। इनमें 10 डिवाइस भारत के थे। भारत सरकार इस पूरे मामले में अपनी भूमिका स्पष्ट करे। उन्होंने मामले की न्यायिक जांच की मांग की है।



Next Story