Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खुद को मंत्री का करीबी बताकर नौकरी दिलाने का झांसा, ठगे 19 लाख

सरस्वती नगर थाने में आधा दर्जन लोगों ने नौकरी लगाने का झांसा देकर 19 लाख रुपए की ठगी करने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। साथ ही पीड़ितों ने ठग के खिलाफ एट्रोसिटी एक्ट में फंसाने की धमकी देने का आरोप लगाया है। ठग मूलत: जांजगीर-चांपा जिले का निवासी है।

ठगी की रकम हवाला से भेजते थे अफ्रीका, गिरोह ने रायपुर से उड़ाए 40 लाख
X
ठगी (प्रतीकात्मक फोटो)

सरस्वती नगर थाने में आधा दर्जन लोगों ने नौकरी लगाने का झांसा देकर 19 लाख रुपए की ठगी करने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। साथ ही पीड़ितों ने ठग के खिलाफ एट्रोसिटी एक्ट में फंसाने की धमकी देने का आरोप लगाया है। ठग मूलत: जांजगीर-चांपा जिले का निवासी है।

पुलिस के मुताबिक जीवमंगल सिंह टंडन के खिलाफ मो. उमर, अब्दुल समद, अशोक यादव, जावेद, कासिफ इकबाल ने ठगी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। शिकायतकर्ताओं ने पुलिस को बताया है कि जीवमंगल ने उनसे वर्ष 2018 में एम्स, एसईसीएल तथा भिलाई स्टील प्लांट में नौकरी लगाने के नाम पर ठगी की है। मो. उमर ने पुलिस को बताया कि जीवमंगल ने सबसे पहले उससे ही संपर्क किया था। साथ ही अपने आपको राज्य के एक मंत्री के करीबी होने का परिचय देते हुए अफसरों से पहचान होने की बात कहकर झांसा दिया और नौकरी लगवाने के नाम पर बड़ी रकम ले ली।

कहा- चुनाव में 40 लाख खर्च किए

ठगी के शिकार लोगों को ठग ने मंत्री को विधानसभा चुनाव में जिताने के लिए 40 लाख रुपए खर्च करने का झांसा दिया। साथ ही उसने कहा कि इसलिए मंत्री ने उसे उसकी चुनाव खर्च की रकम निकालने लोगों को नौकरी लगाने में मदद करने का आश्वासन दिया है। लोगों को किसी भी तरह की शक न हो इसके लिए वह लोगों को अपने साथ मंत्री के बंगले तक लेकर गया।

फर्जी ज्वाइनिंग लेटर के साथ कलेक्टर का पत्र

एक शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया है कि एसईसीएल में ज्वाइनिंग के लिए जीवमंगल ने उसे फर्जी नियुक्ति पत्र दिया। इसके साथ एक अन्य शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया है कि ठग ने उसे लेटरपैड में सरगुजा कलेक्टर के नाम से अनुशंसा पत्र लिखकर दिया था। साथ ही उसे कलेक्टर द्वारा तत्काल नौकरी ज्वाइनिंग कराने का झांसा दिया।


Next Story