Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मान मनौव्वल के बाद भी भाजपा और कांग्रेस के बागी मैदान में, 19 ने वापस लिया नाम

बीरगांव नगर निगम चुनाव के लिए नाम वापसी के अंतिम दिन गहमागहमी का माहौल रहा। कांग्रेस नेता अपने 9 बागियों को मनाने में सफल रहे।(convincing) उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया।(withdrawal of nominations) भाजपा ने भी आधा दर्जन से ज्यादा प्रत्याशियों को नाम वापस करने के लिए मना लिया, लेकिन दो बागियों को भाजपा मनाने में सफल नहीं रही। यही दो प्रत्याशी निर्दलीय चुनाव लड़ रहे है। पढ़िए पूरी ख़बर...

मान मनौव्वल के बाद भी भाजपा और कांग्रेस के बागी मैदान में, 19 ने वापस लिया नाम
X

रायपुर: बीरगांव नगर निगम चुनाव के लिए नाम वापसी के अंतिम समय तक भाजपा और कांग्रेस ने अपने बागियों को मनाने (convincing) का प्रयास किया। कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा और उनके पुत्र पंकज शर्मा ने बागियों से चर्चा कर करीब 9 लोगों को मना लिया। वे दो बागियों को नहीं मना पाए जो चुनाव मैदान में अब भी मौजूद हैं। भाजपा ने भी अंतिम समय में अपने कई बागियों को मनाने का प्रयास किया। भाजपा से आधा दर्जन से अधिक ने नाम वापस लिया, ((withdrawal of nominations))पर दो बागी अब भी चुनाव मैदान में हैं। यहां पर 40 वार्ड में हो रहे चुनाव में अधिकांश जगहों पर त्रिकोणीय मुकाबला है। कांग्रेस, भाजपा और जोगी कांग्रेस के प्रत्याशी सभी वार्ड में प्रत्याशी उतारे है।

बीरगांव नगर निगम चुनाव के लिए नाम वापसी के अंतिम दिन गहमागहमी का माहौल रहा। कांग्रेस नेता अपने 9 बागियों को मनाने में सफल रहे। उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया। कांग्रेस के दो बागी ब भी चुनाव मैदान में है। इनमें शकुंतला धन्नू बंदे ने वार्ड नंबर एक से और नाेहर मिर्जा गुरूजी वार्ड नंबर सात से चुनाव मैदान में हैं। कांग्रेस के उपाध्यक्ष और जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष पंकज शर्मा यहां पर कांग्रेस की ओर से कमान संभालते नजर आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि सभी वार्डों में कांग्रेस की स्थिति अच्छी है। कांग्रेस के बागी प्रत्याशियों को हमने मनाने का प्रयास किया और इसमें सफलता भी मिली है। 9 लोगों ने अंतिम दिन अपना नाम वापस लेकर पार्टी के पक्ष में काम करने का निर्णय लिया। जिन लोगों ने नाम वापस लिया उनमें अहिल्या देवी पांडे, नमिता मिश्रा, शकुन वाई देवांगन, ममता ठाकुर, कविता चतुर्वेदी, कामिनी जांगड़े, राजन मिश्रा, गुलाब देवांगन ने कांग्रेस के पक्ष अपना नाम वापस लिया।

186 प्रत्याशी मैदान में

नगर निगम बिरगांव चुनाव के लिए नाम वापसी के अंतिम दिन 19 प्रत्याशियों ने नाम वापस ले लिया। अब चुनाव मैदान में 186 प्रत्याशी शेष बचे हैं। यहां पर कांग्रेस, भाजपा और छजकां ने सभी 40 वार्ड में अपने प्रत्याशी उतारे हैं। उनके प्रत्याशियों के अलावा 66 निर्दलीय प्रत्याशी भी मैदान में हैं। नगर पालिका निगम बीरगांव के रिटर्निंग ऑॅफिसर बीबी पंचभाई ने बताया कि 19 अभ्यर्थियों ने अपना नाम वापस ले लिया है। प्रत्याशियों के नाम फायनल होने के बाद उन्हें चुनाव चिन्ह का आवंटन भी कर दिया गया।

भाजपा के आधा दर्जन से ज्यादा ने लिए नाम वापस

बीरगांव चुनाव में भाजपा ने आधा दर्जन से ज्यादा प्रत्याशियों को नाम वापस करने के लिए मना लिया, लेकिन दो बागियों को भाजपा मनाने में सफल नहीं रही। यही दो प्रत्याशी निर्दलीय चुनाव लड़ रहे है। शहर जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी का कहना है, नाम वापसी के अंतिम दिन भाजपा से जुड़े पूर्व पार्षद नरेश देवांदन ने अपनी पत्नी खुशी देवांगन का नाम वापस कराया। इसी के साथ राजेश सिंह, कल्पना पाटिल, मो. फरहत सहित आधा दर्जन से ज्यादा प्रत्याशियों ने नाम वापस ले लिए हैं। दो प्रत्याशी 13 नंबर वार्ड से शंकर साहू और 34 नंबर वार्ड से जगमोहन वर्मा ने नाम वापस नहीं लिया है। यही दो प्रत्याशी बागी हैं।

रमन बाेले- टिकट न मिलने वालों में नाराजगी है, मना लेंगे

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का कहना है, यह बात सही है कि नगरीय निकाय चुनाव में जिनको टिकट नहीं मिला है, उनमें नाराजगी है। सबको टिकट देना तो संभव नहीं होता है। जिनमें नाराजगी है, उनको समझाकर मना लिया जाएगा। सब भाजपा के कर्मठ कार्यकर्ता हैं, नाराजगी कुछ समय की ही रहती है। डॉ. रमन ने सोमवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए एक सवाल के जवाब में कहा, कुछ लाेगों को टिकट मिलने की उम्मीद थी, लेकिन सभी को टिकट देना कैसे संभव है? यह स्वाभाविक है कि जिनको टिकट नहीं मिलती, उनमें नाराजगी तो होती ही है, लेकिन यह नाराजगी क्षणिक होती है। भाजपा में नाराजगी का कोई स्थान नहीं है। हमारे कार्यकर्ता समझाने पर समझ जाते हैं और नाराजगी दूर हो जाती है। जो कार्यकर्ता टिकट न मिलने से नाराज हैं, वे मान जाएंगे और भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी के पक्ष में काम करेंगे।

किस वार्ड में कितने प्रत्याशी

गुरुघासीदास वार्ड में 5,

डॉ. राजेंद्र प्रसाद वार्ड में 3,

दानवीर भामाशाह वार्ड में 3,

स्वामी विवेकानंद वार्ड में 5,

राजीव गांधी वार्ड में 5,

कौशल यादव वार्ड में 5,

रानी लक्ष्मी बाई वार्ड में 4,

हरि ठाकुर वार्ड में 5,

मेटल पार्क वार्ड में 7,

मां बंजारीधाम वार्ड में 4,

ठाकुर प्यारेलाल वार्ड में 4,

लाल बहादुर शास्त्री वार्ड में 4,

पं. रविशंकर शुक्ल वार्ड में 5,

गोवर्धन वार्ड में 6,

छत्रपति शिवाजी वार्ड में 3,

मां शीतला वार्ड में 5,

संत कबीर वार्ड में 8,

ठाकुर देव वार्ड में 4,

माधवराव सप्रे वार्ड में 3,

पं. सुंदरलाल शर्मा वार्ड में 7,

कैलाश नगर वार्ड में 5,

राधाकृष्णन वार्ड में 5,

संत रविदास वार्ड में 7,

भगत सिंह वार्ड में 7,

मां. परमेश्वरी वार्ड में 5,

वीरनारायण सिंह वार्ड में 4,

जय बूढ़ादेव वार्ड में 3,

मौलाना अब्दुल रउफ वार्ड में 3,

डॉ. भीमराव अंबेडकर वार्ड में 3,

भारत माता वार्ड में 4,

चंद्रशेखर आजाद वार्ड में 5,

महात्मा गांधी वार्ड में 6,

डॉ. खूबचंद बघेल वार्ड में 7,

इंदिरा गांधी वार्ड में 5,

सुभाष चंद्र बोस वार्ड में 4,

जवाहरलाल नेहरु वार्ड में 4,

मिनी माता वार्ड धरमिन में 3,

मां कर्मा माता वार्ड में 3,

वल्लभ भाई पटेल वार्ड में 3

रविद्रनाथ टैगोर वार्ड में 5,

Next Story