Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

200 करोड़ की ठगी करने वाला चिटफंड कंपनी का डायरेक्टर गिरफ्तार, खदान मजदूर बना बैठा था, 200 एकड़ जमीन के दस्तावेज भी जब्त

आरोपी संचालक मृगेंद्र सिंह साईं प्रकाश प्रापर्टी डेवलपमेंट लिमिटेड चिटफंड (chit fund) कंपनी में जमा पैसा लेकर कई सालों से फरार था। गिरफ़्तारी के बाद 200 एकड़ जमीन के दस्तावेज बरामद हुए हैं। जिसकी नीलामी से लोगों में डूबी रकम के वापसी की उम्मीद जगी है। पढ़िए पूरी ख़बर..

200 करोड़ की ठगी करने वाला चिटफंड कंपनी का डायरेक्टर गिरफ्तार, खदान मजदूर बना बैठा था, 200 एकड़ जमीन के दस्तावेज भी जब्त
X

रायपुर। राजधानी रायपुर सहित पूरे राज्य में पैसा दोगुना होने का लालच देकर साईं प्रकाश प्रापर्टी डेवलपमेंट लिमिटेड (Sai Prakash Property Development Limited) चिटफंड कंपनी के फरार संचालक मृगेंद्र सिंह को राजधानी रायपुर की पुलिस ने पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश के शहडोल जिले के ब्यौहारी से गिरफ्तार कर लिया। कंपनी के तीन संचालक अभी भी है फरार हैं, वहीं उमरिया जिले के मानपुर में पुलिस ने 200 एकड़ जमीन के दस्तावेज भी जब्त किए। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सनसाइन इंफ्राविल्ड चिटफंड(chit fund) कंपनी के दो संचालकों को राजनांदगांव पुलिस ने कोरबा जेल से गिरफ्तार कर पूछताछ की थी। दोनों आरोपी मध्यप्रदेश भिंड के रहने वाले हैं। धोखाधाड़ी कर चार साल से फरार आरोपी संचालकों ने 27730 निवेशकों से 37 करोड़ 48 लाख 81 हजार 165 रुपये की धोखाधड़ी की थी। कंपनी के संचालक सुरेंद्र सिंह बघेल, धरम सिंह कुशवाहा, मुकेश सिंह, बनवारी लाल बघेल, वकील सिंह, संजीव सिंह और राजवीर सिंह राजनांदगांव जिले के साथ प्रदेश के अन्य जिलों में भी विभिन्न स्कीम, एफडी, डिपाजिट, आरडी, पेंशन प्लान और फिक्स डिपाजिट सहित अन्य लुभावने तरीकों से निवेशकों को लालच देकर वर्ष 2010 से 2015 तक कंपनी में पैसा जमा कराया था। निवेशकों से रुपये लेने के बाद सभी आरोपी फरार हो गए थे।

जिनकी तलाश में राज्य की पुलिस लगी हुई थी और मुखबिरों को भी लगा हुआ था। इस बीच साईं प्रकाश प्रापर्टी डेवलपमेंट लिमिटेड चिटफंड कंपनी का फरार डायरेक्टर मृगेंद्र सिंह के बारे में मुखबिर से सूचना मिली और राजधानी रायपुर की पुलिस अपनी टीम के साथ उसे गिरफ्तार करने के लिए पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश के शहडोल पहुंची जहां ब्यौहारी से उसे गिरफ्तार कर लिया गया और उसी की निशानदेही पर पुलिस ने उमरिया जिले के मानपुर में 200 एकड़ जमीन के दस्तावेज भी जब्त किए।

आरोपी संचालक मृगेंद्र सिंह चिटफंड कंपनी में जमा पैसा लेकर कई सालों से फरार था। फरारी के दौरान रुप बदलकर रेत खदान में काम कर रहा था।(mine worker) कंपनी के दो संचालक पुष्पेंद्र सिंह और रणविजय सिंह राजस्थान और भुवनेश्वर जेल में पहले से सजा कांट रहे हैं। पुलिस के मुताबिक कंपनी के तीन संचालक अभी भी है फरार हैं जिनकी तलाश में राज्य की पुलिस जुटी हुई है।

Next Story