Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शाम होते ही बिगड़ा मौसम, तेज हवा के साथ जमकर बारिश, राजधानी में लोग चाय दुकानों में खड़े रहे

शहर में तेज हवा चलने और बारिश होने के वजह से कई इलाकों की बिजली गुल हो गई। मौसम के शांत होने के कुछ देर बाद बिजली लौट आई। बारिश की वजह से कुछ सड़कों में पानी भी भर गया। अगले चौबीस घंटे में मध्यम से घना कोहरा छाने के आसार है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि खुले इलाके में कोहरा इतना घना हो सकता है कि दृश्यता कम होने की वजह आवागमन प्रभावित हो सकता है। पढ़िए पूरी ख़बर..

शाम होते ही बिगड़ा मौसम, तेज हवा के साथ जमकर बारिश, राजधानी में लोग चाय दुकानों में खड़े रहे
X

रायपुर: पश्चिमी विक्षोभ के असर से दिनभर बादल छाए रहने के बाद शाम होते ही रायपुर का मौसम बिगड़ गया। तेज हवाओं के साथ बिजली चमकी। जमकर बारिश हुई और कई इलाकों में ओले भी पड़े। ओलावृष्टि और बारिश का प्रभाव बस्तर को छोड़कर सभी संभागों में रहा। अगले चौबीस घंटे में कोहरे के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने का अनुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र ने पश्चिमी विक्षोभ की वजह से अगले दो दिन तक मौसम बदलने की संभावना जताई थी। आज सुबह से सरगुजा संभाग में ओलावृष्टि और बारिश की गतिविधि बनी रही और शहर में बादल छाने के साथ हवा चलती रही। देर शाम हवा की रफ्तार तेज हुई और बिजली चमकने लगी। कुछ ही पलों में बारिश का दौर शुरु हो गया जो काफी समय तक चलता रहा। इस दौरान शहर के कई इलाकों में ओलावृष्टि भी हुई जिससे मौसम में ठंडक आ गई। मंगलवार को रायपुर के अलावा सरगुजा, बिलासपुर, चांपा-जांजगीर, शिवरीनारायण, राजनांदगांव, कवर्धा, कोरिया सहित कई इलाकों में बारिश और ओलावृष्टि की खबर है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक बुधवार को बस्तर समेत सभी इलाकों में हल्की से मध्यम वर्षा के संकेत हैं। कुछ इलाकों में ओले भी पड़ सकते है। पिछले चौबीस घंटे में रायपुर में न्यूनतम तापमान सामान्य पांच डिग्री अधिक रहा। दिन का पारा भी सामान्य से एक डिग्री अधिक था। हवा, बारिश और ओले पड़ने की वजह से मौसम में काफी ठंडकता आ गई।

बिजली की आंखमिचौली भी

शहर में तेज हवा चलने और बारिश होने के वजह से कई इलाकों की बिजली गुल हो गई। मौसम के शांत होने के कुछ देर बाद बिजली लौट आई। देर शाम मौसम बदलने के कारण शहर का ट्रैफिक भी कुछ देर के लिए थम सा गया। वहीं बारिश की वजह से कुछ सड़कों में पानी भी भर गया।

मौसम खुलते ही ठंड

मौसम विशेषज्ञ एचपी चंद्रा ने बताया कि मौसम खुलने और हवा की दिशा बदलाव होते ही प्रदेश में कड़ाके की ठंड अपना असर दिखाएगी। अनुमान है कि साल के अंतिम दिन ही ठंड असर दिखाने लगेगी। ठंड के इस दौर में रात का तापमान सामान्य से तीन से चार डिग्री सेल्सियस तक नीचे जा सकता है।

कोहरे के आसार

अगले चौबीस घंटे में बादल-बारिश होने के बाद आसमान साफ होते ही रायपुर समेत प्रदेश के कई इलाकों में मध्यम से घना कोहरा छाने के आसार है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि खुले इलाके में कोहरा इतना घना हो सकता है कि दृश्यता कम होने की वजह आवागमन प्रभावित हो सकता है।











Next Story