Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना अलर्ट : पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल सहित 106 पॉजिटिव, अब ये जिले कंटेनमेंट जोन...

बुधवार को प्रदेश भर में 23 हजार 767 नमूनों की जांच हुई। इस दौरान 106 लोगों में संक्रमण का पता चला है। इनमें 40 मरीज अकेले रायगढ़ में सामने आए। जिसमें 7 बच्चे शामिल हैं। पढ़िये पूरी खबर-

कोरोना अलर्ट : पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल सहित 106 पॉजिटिव, अब ये जिले कंटेनमेंट जोन...
X

रायपुर। प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। बीते 24 घंटों में प्रदेश में कोरोना के 106 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। इसमें पूर्व नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल भी शामिल हैं। कोरोना की बढ़ी संख्या की वजह से रायपुर और रायगढ़ शहरों में कंटेनमेंट जोन बना दिए गए हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए गुरुवार को सभी जिला कलेक्टर की बैठक मुख्य सचिव ने बुलाई है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जानकारी के मुताबिक बुधवार को प्रदेश भर में 23 हजार 767 नमूनों की जांच हुई। इस दौरान 106 लोगों में संक्रमण का पता चला है। इनमें 40 मरीज अकेले रायगढ़ में सामने आए। जिसमें 7 बच्चे शामिल हैं। बिलासपुर में 17, जांजगीर-चांपा में 13 और रायपुर जिले में 12 नए मरीज सामने आए। राजनांदगांव में 5, सूरजपुर में 4, दुर्ग और कोरबा में 3-3 मरीज मिले। वहीं कबीरधाम और धमतरी में 2-2 और बालोद, बस्तर, जशपुर और कांकेर में एक-एक व्यक्तियों में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 463

इतनी बड़ी संख्या में बीमारों के मिलने के बाद प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या एकदम से बढ़कर 463 हो गई है। यह पिछले चार-पांच महीनों के दौरान सक्रिय मरीजों की सबसे बड़ी संख्या है। प्रदेश में पिछले 3 दिन में 224 से ज्यादा नए मरीज मिल गए हैं। केवल सात दिन में एक्टिव मरीज डेढ़ सौ बढ़कर 463 हो गए हैं।

जिस रफ्तार से संक्रमण बढ़ रहा है, डॉक्टरों के अनुसार यह गति ओमिक्रॉन संक्रमण जैसी ही है। मंगलवार को 23 हजार से ज्यादा जांच के मुकाबले संक्रमण की दर 0.45 प्रतिशत दर्ज की गई। रायगढ़ दूसरी लहर के पीक गुजरने के बाद संक्रमण की सर्वाधिक दर 2.22 प्रतिशत दर्ज की गई है।

इन मरीजों में राज्य सरकार के पूर्व मंत्री भी हैं शामिल

इन मरीजों में राज्य सरकार के पूर्व मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अमर अग्रवाल भी शामिल हैं। अग्रवाल ने देर रात बताया कि उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने आग्रह किया है जाे पिछले दो-तीन दिनों में जो भी उनके संपर्क में आए हैं वे अपनी जांच करा लें ताकि समय पर उपचार कराया जा सके। एहतियात के तौर पर रायपुर और रायगढ़ जिला प्रशासन ने कई क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है। कुछ लोकप्रिय पिकनिक स्पॉट को बंद कर दिया गया है।

इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन बनाया गया

रायपुर कलेक्टर ने शहर में पांच कंटेनमेंट जोन घोषित किए हैं। इन क्षेत्रों में दो से अधिक नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। कलेक्टर ने बूढ़ापारा के चंद्रमा मंदिर रोड स्थित पंचवटी गोकुल नगर, दलदल सिवनी के मितान विहार मोवा, दलदल सिवनी के ही ग्रीन आर्किड मोवा, आमा सिवनी के सफायर ग्रीन और चौबे कॉलोनी में महाराष्ट्र मंडल के पास के इलाके को कंटेनमेंट जोन बनाया है। आना-जाना प्रतिबंधित है।

तैयारियां तेज करने का निर्देश

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ओमिक्रॉन और कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिला कलेक्टरों को सभी एहतियाती उपाय अपनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी जिलों में कोविड टेस्टिंग बढ़ाने और अस्पतालों में किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए सभी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाए। संक्रमण की स्थिति पर नजर रखने के लिए प्रशासन और स्वास्थ्य अमले को सतर्क करने को भी कहा गया है।

कार्यक्रमों पर सख्त फैसले

हालात को देखते हुए मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने आज सभी संभागों के कमिश्नर, जिलों के कलेक्टर, सीएमएचओ की आपात बैठक बुलाई है। सूत्रों के मुताबिक बैठक में 40 हजार टेस्ट बढ़ाने आरटीपीसीआर टेस्ट की तादाद 11 हजार से अधिक करने समेत सभी जिलों में कंट्रोल रूम बनाने जैसे निर्देश जारी हो सकते हैं। वहीं न्यू ईयर पार्टी, शादी अवसर, बाजारों को लेकर महामारी नियंत्रण के तहत कलेक्टरों को फिर अधिकृत किया जा सकता है। तीसरी लहर की अस्पतालों में तैयारियों की समीक्षा भी होगी।

Next Story