Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

10 करोड़ का छात्रावास भवन खंडहर बनने की राह पर

अटारी में लोक निर्माण विभाग ने किया था निर्माण

10 करोड़ का छात्रावास भवन खंडहर बनने की राह पर
X

रायपुर. अटारी में लोक निर्माण विभाग की तरफ से बनाए गए छात्रावास भवन का इन दिनों बुरा हाल है। भवन निर्माण के बाद इसे लावारिस हालत में छोड़ दिया गया है। यहां नुकसान होने की चिंता बढ़ गई है। लावारिस हालत में कैंपस में सामग्री चोरी होने लगी है, कई बारिश में पानी जमा होने की वजह से कई जगहों पर दूसरे तरह का नुकसान हो रहा है। इसके पहले दस करोड़ रुपये की लागत से लोक निर्माण विभाग ने भवन का निर्माण कराया था।

विभागीय अफसरों ने बताया, साइंस कॉलेज को यह भवन सौंपने पत्र लिखा गया, लेकिन वहां से कोई खास रिस्पांस नहीं मिला। आगे भवन को तालाबंदी करने का निर्णय लिया गया। पिछले मार्च के बाद से लॉकडाउन होने के बाद प्रक्रिया कभी भी आगे नहीं बढ़ी, इसलिए कैंपस का इस्तेमाल ही नहीं हो पाया।

200 सीटर क्षमता वाले आवासीय कॉलेज भवन का निर्माण दो साल पहले ही कर लिया गया है। आवासीय कॉलेज भवन को जुलाई 2018 से शुरू करने का लक्ष्य रखा गया था। काम धीमा होने की वजह से यह सत्र निकल गया। लोक निर्माण विभाग के अधिकारी एनके पांडे ने बताया कि साइंस कॉलेज के पदाधिकारियों ने सेटअप बनाया है, फिलहाल हैंडओवर करने की प्रक्रिया के बारे में उनकी तरफ से कोई जानकारी नहीं मिली।

200 छात्रों के रहने ठहरने की सुविधा वाला कैंपस

आवासीय कॉलेज भवन निर्माण में लगभग दस करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। परिसर की बाउंड्रीवॉल और मुख्य द्वार बाद में बनाया गया। यहां 100 छात्राएं और 100 छात्र रह सकेंगे। भूतल पर छह और प्रथम तल पर दस क्लास रूम हैं। एक प्रवेश द्वार, दो सीढ़ी, एक रैंप तथा भवन के अंदर चारों तरफ 2.4 मीटर चौड़ाई का बरामदा बनाया गया है।

Next Story