Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लखनऊ से भटककर बिहार पहुंची नाबालिग, युवक ने 2 दिनों तक घर में बंद कर लूटी अस्मत

बिहार के अररिया जिले से मानवता को शर्मसार कर देने वाली वारदात सामने आई है। यहां पर यूपी के लखनऊ की एक नाबालिग लड़की के साथ बंधक बनाकर दो दिनों तक दुष्कर्म किया गया है।

wandering from lucknow up rape from minor girl reached in araria bihar crime news in hindi
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के अररिया (Araria) में नाबालिग बच्ची के साथ हैवानियत (Cheerfulness with a minor girl) की वारदात को अंजाम दिया गया है। यहां यूपी (UP) के लखनऊ (Lucknow) से भटककर एक नाबालिग लड़की (Minor girl) बिहार के अररिया में पहुंच गई। जहां नाबालिग लड़की को घर में बंद करके उसके साथ दो दिनों तक जबरन दुष्कर्म (Rape) किया गया। जब नाबालिग लड़की के चिखने और चिल्लाने की अवाज आस-पड़ोस के लोगों ने सुनी तो इन्हीं लोगों ने बच्ची को वहां से मुक्त कराया और बाल कल्याण समिति को सौंप दिया। बाल कल्याण समिति में नाबालिग लड़की की काउंसिलिंग (Counseling) की गई तो पता चला की किशोरी के साथ रेप (Rape with teenager) किया गया है।

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष ने लड़की की दर्द ए दांस्तान सुनने के बाद महिला थाना अररिया में आरोपी संतोष कुमार पांडेय के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। महिला थाना पुलिस नाबालिग लड़की की मेडिकल जांच करवा रही है। वहीं बाल कल्याण समिति की तरफ से पीड़ित नाबालिग लड़की को किशनगंज स्टे होम में भर्ती कराया।

बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष निशा कुमारी ने थाने में दर्ज कराई अपनी शिकायत में कहा है कि बीते 5 मई को यूपी से नाबालिग लड़की भटक कर बिहार के अररिया में आ पहुंची थी। अररिया में किशोरी किसी को नहीं जानती थी। इस दौरान उसे संतोष कुमार पांडे नामक एक युवक मिल गया। युवक संतोष कुमार पांडे नाबालिग लड़की को अपने घर लेकर चला गया। वह नाबालिग लड़की को अपने घर में दो दिनों तक रखे रहा, वहीं उसने अपने परिवार के लोगों से कहा था कि वो नाबालिग लड़की को बस में सवार करके भेज देगा। युवक संतोष कुमार पांडे ने नाबालिग लड़की को किसी बस में तो सवार नहीं किया और वह उस नाबालिग लड़की को जयप्रकाश नगर के किसी अनजान घर में लेकर चला गया। वहां पर संतोष कुमार पांडे ने नाबालिग लड़की के साथ दो दिनों तक लगातार रेप किया।

लगातार हो रहे रेप के बाद नाबालिग लड़की जब चीख और चिल्ला रही थी। इससे आसपास के लोगों को कुछ गलत होने की भनक लग गई। इसके बाद आसपास के लोगों ने दरिंदे के कब्जे से नाबालिग लड़की को मुक्त कराया और बाल कल्याण समिति के सदस्यों के हवाले कर दिया। इस दौरान युवक संतोष कुमार पांडे मौके से भाग निकला। दूसरी ओर महिला थानेदार रीता कुमारी ने बताया कि एफआईआर दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए छापेमार कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही आरोपी संतोष कुमार पांडे को अरेस्ट कर लिया जाएगा।

और पढ़ें
Next Story