Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नाबालिग प्रेमी को जबरन चटवाया गया थूक, खबर पढ़कर जानें पूरा मामला

Video Viral : बिहार के गया जिले में मानवता को शर्मसार कर देने वाली हरकत सामने आई है। यहां नाबालिग लड़के को दूसरे इंसान का थूक चाटने के लिए मजबूर किया गया है। इस पूरे मामले का एक वीडियो भी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ सवाल उठाए गए हैं। लेकिन ये पूरा मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है।

नाबालिग प्रेमी को जबरन चटवाया गया थूक, खबर पढ़कर जानें पूरा मामला
X

गया वायरल तस्वीर

Video Viral : बिहार (Bihar) के गया (Gaya) जिले में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक नाबालिग लड़के (Minor boys) को किसी दूसरे इंसान का थूक (Spit) जबरन चाटने के लिए मजबूर किया गया। इस नाबालिग प्रेमी (Minor lover) की गलती सिर्फ ये थी कि वो अपने गांव निवासी ही एक लड़की के साथ भाग गया था। इस पूरे मामले का एक वीडियो (Video) तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। जिसमें नाबालिग लड़का उठक-बैठक करते हुए भी दिख रहा है। अन्य लोगों ने नीतीश कुमार सरकार (Nitish Kumar Government) पर निशाना साधते हुए इस वीडियो को ट्विटर समेत सोशल मीडिया के अन्य माध्यमों पर शेयर किया है। वहीं जानकारी मिल रही है कि मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।गया एसएसपी आदित्य कुमार के संज्ञान में जब ये मामला आया तो इसकी जांच पड़ताल के लिए एडिशनल एसपी के अगुआई में एक टीम गठित की गई। इस टीम ने तुरंत आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की। इस मामले को लेकर वजीरगंज थाने में केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने अभी तक इस मामले में बिठल सिंह उर्फ धर्मेन्द्र कुमार, दिलीप मांझी, गौतम कुमार, विजय मांझी, इंदल मांझी एवं लालजीत कुमार को गिरफ्तार किया है।

इस मामले में अलग-अलग दावे करते हुए कई वीडियो हुए हैं वायरल

प्रथम वायरल वीडियो पर कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि जबरन एक युवक को जमीन पर थूक गिराकर चटवा रहे हैं और उठक-बैठक लगवा रहे हैं तथा आगे से ऐसा नहीं करने की बात कबूल करवाने के लिए उठक- बैठक लगवा रहे हैं।

दूसरे वीडियो में दावा किया जा रहा कि पीड़ित शख्स ने चुनाव में उक्त पूर्व मुखिया के प्रत्याशी का साथ नहीं दिया। इसलिए उसके साथ ऐसा व्यवहार किया जा रहा है। वहीं न्याय नहीं मिलने पर आत्महत्या करने की बात भी कही गई है।

तीसरे वीडियो में लोग दावा कर रहे हैं कि इस वीडियो को मनीष नामक ट्विटर अकाउंट से शेयर किया गया है। जिस पर दावा किया गया है कि देखिए बिहार के गया जिले में पंचायत चुनाव में सर उठाने के लिए सामंती लोग एक दलित को थूक चाटने की कैसे सजा दे रहे हैं। नीतीश कुमार के शासन में सब कुछ ठीक नहीं।

जदयू नेता निखिल ने किया पलटवार

मनीष के आरोप पर जदयू नेता निखिल मंडल ने पलटवार किया है। जदयू नेता ने लिखा कि जिस सामंती सोच वाले ने ऐसा किया है उसे सजा जरूर मिलेगी। जहां तक आपने नीतीश कुमार के शासन की बात कही है तो सभी जानते है 2005 के बाद ही पंचायती राज में आरक्षण के तहत वंचित वर्ग को मुखिया-सरपंच बनने का मौका मिला। अपवाद को नीतीश जी से जोड़ना कही से भी न्यायोचित नही है भाईसाहब।

प्रेम प्रसंग से संबंधित है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार, यह पूरा मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा भी बताय जा रहा है। जहां नाबालिग लड़का किसी लड़की को बीते कुछ दिनों पहले भगा ले गया था। सप्ताह भर पहले वो गांव में वापस आ गया। इसके बाद लड़की पक्ष और लड़का पक्ष के परिवारों के बीच पूर्व मुखिया के दरवाजे पर पंचायत बैठाई गई। इस दौरान पंचायत में आरोपी लड़के को थूक चाटने की सजा दी गई और भविष्य में ऐसा नहीं करने का वचन भी लिया गया। इसके बाद नाबालिग अपने परिजन समेत कहीं चला गया और दूसरा वीडियो बनाकर वायरल किया। एसएसपी का कहना है कि प्रथम जांच रिपोर्ट में पीड़ित शख्स द्वारा किसी लड़की को प्रेम प्रसंग में भगा ले जाने और उसके बाद गांव स्थित घर वापस लौटने पर यह अनैतिक फैसला सुनाया गया है।

पूर्व मुखिया पति अभय सिंह खुद को बता रहा बेगुनाह

पूर्व मुखिया पति अभय सिंह उर्फ अबलू सिंह की ओर से भी पुलिस की नजरों से बचकर अपने बयान का एक वीडियो वायरल किया गया है। इसमें अभय सिंह ने खुद पर लगे सभी आरोपों को खारिज किया है और इसे राजनीतिक साजिश करार दिया है। अभय सिंह का कहना है कि यह दो दलित परिवारों के बीच के विवाद का मामला है। जब पीड़ित शख्स सामने आ जाएगा तो पूरे मामले से पर्दा हट जाएगा।

Next Story