Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना संक्रमित शव की जेब से अंतिम संस्कार करने वालों ने साफ कर दिया एटीएम, फिर खाते से उड़ाई इतनी रकम

बिहार के सासाराम जिले एक बड़ा ही हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर कोरोना से जान गंवाने वाले शख्स के खाते से उसकी मौत के बाद किसी ने पैसे निकाल लिए। मृतक की पत्नी ने मामले की शिकायत पुलिस से की। उसके बाद चौंकाने वाले खुलासा हुआ।

funeral makers took ATM from pocket of corona infected dead body and Amount withdrawn from deceased person account
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के सासाराम (sasaram) जिले में एक चौंकाने वाली घटना का पर्दाफाश हुआ है। यहीं पर कोरोना संक्रमित (corona infected) स्कूल क्लर्क के शव का अंतिम संस्कार करने वाले (funeral makers) डेहरी नगर परिषद के कर्मचारियों ने उसका एटीएम (ATM) कार्ड चुरा लिया। इसके बाद मृतक के बैंक खाते से रुपये निकाल लिए गए। यह हैरान कर देने वाली पूरा मामला दक्षिण पश्चिम बिहार के रोहतास (Rohtas) जिले के डेहरी-ऑन-सोन से सामने आया है।

यह हैरतअंगेज मामला (amazing case) उस वक्त प्रकाश में जब मृतक की पत्नी (Wife) को पता चला कि उसके पति की मौत के बाद उनके बैंक खाते से रुपये निकाल लिए गए हैं। इसके बाद महिला ने पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी। जानकारी के अनुसार दरियाहाट के निकट स्थित डीएवी स्कूल के एक क्लर्क अभिमन्यु कुमार की 30 अप्रैल को डेहरी अस्पताल में इलाज के दौरान कोरोना महामारी से मौत हो गई थी। इसके बाद अभिमन्यु कुमार के शव का डेहरी नगर परिषद के कर्मचारियों द्वारा कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अंतिम संस्कार किया गया था।

मृतक की पत्नी शिकायत लेकर पहुंची पुलिस के पास

विधवा महिला छाया देवी को ज्ञात हुआ कि उनके पति की मौत के बाद उनके खाते से एक लाख 6 हजार 500 रुपये निकाल लिए गए हैं। छाया देवी के आवेदन पर 11 जून को अज्ञात लोगों पर भारतीय दंड संहिता की धारा 420 और 379 के तहत दारीहाट थाने में केस दर्ज किया गया है।

एसपी ने गंभीरता से लिया मामला

दारीहाट पुलिस ने पूरे मामले की जानकारी पुलिस अधीक्षक आशीष भारती को दी। पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने इस मामले को पूरी गंभीरता से लिया। साथ ही उन्होंने मामले को सुलझाने के लिए डेहरी एसडीपीओ संजय कुमार के नेतृत्व में एक एसआईटी गठित कर दी। इस बीच पुलिस ने नगर परिषद श्मशान घाट के एक सदस्य विशाल डोम को अरेस्ट कर लिया।

एक आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे

आरोपित विशाल ने पुलिस पूछताछ में अंतिम संस्कार से पहले शव के पास मौजूद एटीएम कार्ड चुराने और मृतक के खाते से रुपये निकालने की बात स्वीकार की। विशाल ने अपने उन साथियों के नाम का भी खुलासा किया है जो इस अपराध में शामिल रहे हैं। एसपी ने बताया कि एसआईटी अन्य फरार आरोपियों की गिरफ्तारी और निकाले गए रुपये की बरामदगी के लिए छापेमारी कर रही है।

Next Story