Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शराबबंदी होने के बाद भी गंगा से निकल रही शराब! 62 हजार लीटर अवैध शराब पर चला बुलडोजर

बिहार में अप्रैल 2016 से शराबबंदी लागू की गई। उसके बाद भी आए दिन अवैध शराब के मामले सामने आते है। ताजा घटना वैशाली से आ रही है। यहां बड़ी संख्या में पुलिस ने शराब की 32 भट्ठियों को नष्ट किया है। ये सभी गंगा किनारे चल रही थी।

शराबबंदी होने के बाद भी गंगा से निकल रही शराब! 62 हजार लीटर अवैध शराब पर चला बुलडोजर
X

बिहार (Bihar) में अप्रैल 2016 से शराबबंदी (Prohibition) लागू की गई। उसके बाद भी आए दिन अवैध शराब के मामले सामने आते है। ताजा घटना वैशाली (Vashali) से आ रही है। यहां बड़ी संख्या में पुलिस ने शराब की 32 भट्ठियों को नष्ट किया है। ये सभी गंगा किनारे चल रही थी। मौके से उत्पाद विभाग की टीम ने 600 लीटर तैयार शराब बरामद की है। इसके अलावा 62 हजार लीटर अर्धनिर्मित शराब (Semi-Finished wine) के साथ बनाने के 65 उपकरण भी बरामद किए हैं।

जानकारी के अनुसार, उत्पाद विभाग की टीम को गंगा किनारे अवैध शराब की भट्ठियों होने की सूचना मिली थी। जब टीम रूस्तमपुर थाना एरिया के सुकुमार दियारा, तेरसिया दियारा और कछार एरिया में नाव से छापेमारी करने के लिए पहुंची। वहां बड़ी संख्या में शराब की खेप तैयार की जहा रही थी। हालांकि, टीम को देखकर शराब माफियाओं में हड़कंप मच गया। यहां 32 भट्ठियों पर बुलडोजर चलाकर नष्ट कराया गया है।

शराब माफियाओं (liquor mafia) ने जमीन और गंगा नदी के अंदर शराब (Wine) को छिपाकर रखी हुई थी। उन्हें ड्रम में भरकर अंदर दबाया हुआ था। हालांकि, यहां से 600 लीटर शराब बरामद कर उसे नष्ट कर दिया है। इस कार्रवाई के बाद शराब माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है। उत्पाद अधीक्षक विजय शेखर दुबे ने बताया कि अवैध शराब माफियाओं पर लगातार शिकंजा कसा जा रहा है। अभियान चलाकर शराब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। विजय शेखर दूबे का कहना है कि 62 हजार लीटर शराब को नष्ट कर दिया गया है।

और पढ़ें
Next Story