Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Agnipath Scheme पर जयंत चौधरी ने कहा- खच्चर को घोड़ा बनाने की कोशिश जारी, यूजर्स बोले- भाषा की मर्यादा में रहो

समाजवादी पार्टी के सहयोगी दल आरएलडी के प्रभारी जयंत चौधरी अक्सर अपने ट्वीट की वजह से यूजर्स के निशाने पर आ जाते हैं। आज भी उन्होंने ऐसा ट्वीट कर दिया है, जिससे यूजर्स भड़क गए हैं। पढ़िये किसने क्या कहा...

Agnipath Scheme पर जयंत चौधरी ने कहा- खच्चर को घोड़ा बनाने की कोशिश जारी, यूजर्स बोले- भाषा की मर्यादा में रहो
X

आरएली प्रभारी जयंत चौधरी ने अग्निपथ योजना को लेकर ट्वीट किया, जिससे भड़क गए यूजर्स। 

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल (RLD) के प्रभारी जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) ने अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme) के खिलाफ चल रहे हिंसक प्रदर्शनों के बीच विवादित टिप्पणी कर दी है। उन्होंने गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) के ट्वीट को शेयर करते हुए लिखा, 'खच्चर को घोड़ा बनाने की कोशिश जारी!' उनके इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर गुस्सा भड़क गया है। किसी यूजर ने जयंत चौधरी पर सेना का अपमान करने और किसी ने युवाओं पर प्रहार करने का आरोप लगाया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ट्वीट यूजर दुष्यंत कुमार ने लिखा, 'देश का युवा और सैनिक आपके लिए खच्चर है। आपके पिता जी ने बागपत का विकास नहीं होने दिया। आप देश में कुछ नया मत होने दो। एक काम करो बैल गाड़ी से चलना शुरू कर दो।' शशि कुमार ने लिखा, 'आप लोग भी तो सब मिलकर एक खच्चर को घोड़ा बनाने में लगे हो।'


डॉक्टर संजय तिवारी ने लिखा, 'जिस पार्टी में 40 साल खपाने के बाद भी परिवार के अलावा किसी और को पार्टी अध्यक्ष बनने की गारंटी न हो, वो पूछ रहे हैं कि 4 साल की ट्रेनिंग के बाद युवाओं के भविष्य की क्या गारंटी है 🤓।' अन्य यूजर पंकज बिष्ट ने जयंत चौधरी को रिप्लाई करते हुए लिखा, 'जो खुद दूसरों की बैसाखी पर चलकर राज्य सभा पहुंचा हो वो घोड़े और खच्चर में अंतर बता रहा है 🤔।' इसी प्रकार अन्य ज्यादतर यूजर्स भी जयंत चौधरी पर प्रहार कर रहे हैं।

पीएम मोदी पर भी कसा था तंज

जयंत चौधरी ने इससे पूर्व शुक्रवार को भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लिए बिना तंज कसा था। उन्होंने लिखा, 'माफी वीर आदर्श, जुमला वीर प्रचारक, भाषण वीर नेता, भारतीय सेना को अग्नि वीर मत बनाओ!' उन्होंने यह भी लिखा था कि आरएलडी बेरोजगारी और अग्निपथ योजना के खिलाफ 28 जून से युवा पंचायत करेंगे। पहली युवा पंचायत शामली में होगी।

एक जुलाई को मथुरा, तीन जुलाई को मुजफ्फरनगर, चार जुलाई को बिजनौर, छह जुलाई को बुलंदशहर, आठ जुलाई को अमरोहा, नौ जुलाई को मुरादाबाद, 11 जुलाई को अलीगढ़, 12 जुलाई को आगरा, 14 जुलाई को गाजियाबाद और 16 जुलाई को बागपत में युवा पंचायतों का आयोजन किया जाएगा। इस ट्वीट पर भी ज्यादतर लोगों ने जयंत चौधरी के खिलाफ ही कमेंट कर निशाना साधा है।

और पढ़ें
Next Story