Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उन्नाव थाने में 'बीजेपी' की पंचायत, ट्रैफिक पुलिसकर्मी फूट-फूटकर रोया, विपक्ष ने 'सुशासन' को घेरा

यह वीडियो उन्नाव सदर कोतवाली का है। यहां एक भरी पंचायत में ट्रैफिक पुलिसकर्मी फूट-फूटकर रोता दिखाई दे रहा है। समाजवादी पार्टी और आरएलडी ने इस वीडियो को शेयर कर योगी सरकार के सुशासन पर सवाल उठाए हैं। पढ़िये यह रिपोर्ट...

उन्नाव थाने में बीजेपी की पंचायत, ट्रैफिक पुलिसकर्मी फूट-फूटकर रोया, विपक्ष ने सुशासन को घेरा
X

उन्नाव वायरल वीडियो में थाने के भीतर ट्रैफिक पुलिस का सिपाही फूट-फूटकर रोता दिखाई दिया।  

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) राज्य में सुशासन (Good Governance) का दावा कर रहे हैं, लेकिन समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) और आरएलडी (RLD) ने ऐसा वीडियो वायरल (Viral Video) कर दिया है, जो कि साबित करता है कि वीआईपी कल्चर (VIP Culture) कभी समाप्त नहीं हो सकता। इस वीडियो के मुताबिक उन्नाव ट्रैफिक पुलिस (Unnao Traffic Police) को वीआईपी कल्चर के खिलाफ चालान काटने पर उसे न केवल बेइज्जत किया गया, बल्कि उसे निलंबित कर देने की भी धमकी दी गई। यही नहीं उसे थाने में रोने पर भी विवश होना पड़ा। दरअसल यह वीडियो उन्नाव सदर कोतवाली का है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस वीडियो में यह ट्रैफिक सिपाही एक इंस्पेक्टर के कमरे में फूट-फूटकर रोता दिखाई दे रहा है। यहां पंचायत लगी है, जिसमें कुछ लोग बैठे हैं। बताया जा रहा है कि इस पंचायत को बीजेपी के लोगों ने लगाई थी। वायरल वीडियो में ट्रैफिक पुलिसकर्मी रोते हुए आपबीती बता रहा है। इस वीडियो में इंस्पेक्टर कोतवाली की आवाज सुनाई दे रही है कि गलती आप लोगों की है। गाड़ी में आप लोगों को हूटर लगाकर चलने का अधिकार नहीं है, इसलिए फोटो खींच रहा था।

समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल ने वीडियो शेयर कर सुशासन के दावे पर प्रहार किया है। सपा के ट्विटर अकाउंट पर वीडियो के साथ लिखा गया 'बीच सड़क पर भीड़ के बीच अपनी इज्जत और वर्दी की इज्जत गंवा चुका ये पुलिसवाला थाने में फूट-फूट कर रोने लगा। योगी जी! आपका बुलडोजर इन गुंडे, मवाली, लफंगे और दबंग भाजपाइयों पर कब चलेगा, जो आपके राज में कानून को जूते की नोक पर ठोकर मारते आवारा सांड की भांति सत्ता के नशे में चल रहे हैं।' वहीं आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा, 'सुशासन।' यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

यह था मामला

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्नाव सदर कोतवाली क्षेत्र के गांधी नगर तिराहे में ट्रैफिक पुलिस के एक सिपाही ने सफेद रंग की गाड़ी की फोटो खींच ली और गाड़ी रोकने का इशारा किया। बताई जा रही है कि यह गाड़ी एक बीजेपी विधायक के रिश्तेदार की है। इस पर गाड़ी में बैठे लोग आग बबूला हो गए। उन्होंने ट्रैफिक सिपाही से अपशब्द कहे और जेल में बंद कराने की धमकी दे दी। यही नहीं नेता जी पूरा मामला लेकर कोतवाली पहुंच गए। यहां ट्रैफिक सिपाही कई नेताओं की कुर्सी के सामने खड़े होकर रोते हुए आपबीती सुनाते गए। हालांकि आगे क्या कार्रवाई होगी, यह अभी सामने आना बाकी है।

और पढ़ें
Next Story