Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में युवाओं के टीकाकरण के लिए एक माह का मूल वेतन देंगे मुख्यमंत्री, मंत्री व विधायक

राजस्थान में 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के लोगों को नि:शुल्क कोरोना वायरस प्रतिरक्षण टीकाकरण के लिए राज्य सरकार को समाज के विभिन्न वर्गों का भरपूर सहयोग मिल रहा है। मुख्यमंत्री गहलोत के आह्वान पर लोग स्वप्रेरणा से आर्थिक सहयोग के लिए आगे आ रहे हैं।

Rajasthan Corona : संक्रमण के 17 नए मामले, तीसरी लहर को लेकर सीएम गहलोत ने चेताया
X

राजस्थान कोरोना वायरस

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) सहित राज्य मंत्रिपरिषद के सभी सदस्यों, विधानसभा के पीठासीन अधिकारियों तथा सभी विधायकों ने युवाओं के टीकाकरण (Vaccination) के लिए के लिए अपने मई माह का मूल वेतन राजस्थान मुख्यमंत्री सहायता कोष-टीकाकरण खाते में देने का निर्णय किया है। एक सरकारी प्रवक्ता के अनुसार राजस्थान में 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के लोगों को नि:शुल्क कोरोना वायरस प्रतिरक्षण टीकाकरण के लिए राज्य सरकार को समाज के विभिन्न वर्गों का भरपूर सहयोग मिल रहा है। मुख्यमंत्री गहलोत के आह्वान पर लोग स्वप्रेरणा से आर्थिक सहयोग के लिए आगे आ रहे हैं।

पहले भी अधिकारियों ने दिया था अपना वेतन

इससे पहले भारतीय प्रशासनिक सेवा एवं भारतीय पुलिस सेवा एवं आईएफएस अधिकारियों ने तीन दिन का वेतन इस कार्य के लिए देने की घोषणा की है। इसके साथ ही आरएएस, आरपीएस, राज्य लेखा सेवा, वन सेवा, राज्य कर सेवा, राजस्थान शिक्षा सेवा परिषद (प्रधानाचार्य) आदि से संबंधित एसोसिएशनों ने भी आगे आकर गहलोत के आह्वान पर युवा वर्ग के टीकाकरण के लिए अंशदान देने की स्वैच्छिक सहमति दी है। गहलोत ने संकट के इस समय में सहयोग की इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि प्रदेशवासियों की जीवन रक्षा सर्वोपरि है और इस दिशा में हर वर्ग का सहयोग राज्य सरकार के कोविड प्रबंधन के प्रयासों को और मजबूती प्रदान करेगा।

मुख्यमंत्री के निर्देश पर खोला गया खाता

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर एक बैंक खाता स्टेट बैंक आफ इंडिया की जयपुर सचिवालय शाखा में खोला गया है, जिसकी खाता संख्या 40166914665 और आईएफएससी कोड एसबीआईएन 0031031 है। सहयोगकर्ता नकद, चैक एवं इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से इस खाते में सहयोग राशि हस्तान्तरित कर सकते हैं। इस खाते में प्राप्त दान राशि का प्रयोगयुवा वर्ग के निशुल्क टीकाकरण के लिए किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने लोगों से पुनः अपील की है कि वे मुख्यमंत्री सहायता कोष के अन्तर्गत स्वैच्छिक सहयोग करें ताकि कोरोना की इस गंभीर चुनौती का हम सफलतापूर्वक सामना कर पाएं।

Next Story