Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल न्यूज: कांगड़ा पहुंचे सीएम जयराम ठाकुर ने गिनाईं सरकार की उपलब्धियां

कांगड़ा दौरे पर पहुंचे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर गुरुवार को धर्मशाला पहुंचे उन्होंने कहा कि चीन-तिब्बत सीमा के साथ लगते बॉर्डर एरिया में कनेक्टिविटी में सुधार करना सरकार की प्राथमिकता है।

हिमाचल न्यूज: कांगड़ा पहुंचे सीएम जयराम ठाकुर ने गिनाईं सरकार की उपलब्धियां
X
फाइल फोटो

कांगड़ा दौरे पर पहुंचे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर गुरुवार को धर्मशाला पहुंचे उन्होंने कहा कि चीन-तिब्बत सीमा के साथ लगते बॉर्डर एरिया में कनेक्टिविटी में सुधार करना सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किन्नौर और लाहुल-स्पीति जिलों के साथ तिब्बत की सीमाएं लगती हैं। लेह के पास सीमा में भारत और चीनी सेना के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद सभी सीमा क्षेत्रों को अलर्ट किया गया था। केंद्र के दिशा-निर्देशों के चलते प्रदेश सरकार ने भी पांच आईपीएस अधिकारियों का दल भेजा था। इस दल ने इन क्षेत्रों में रह रहे लोगों से मिलकर वहां की हर तरह की गतिविधियों की रिपोर्ट बनाकर केंद्र सरकार को भेजी है। मुख्यमंत्री ने सीमावर्ती क्षेत्रों में रह रहे लोगों के पलायन की खबरों को आधारहीन बताते हुए कहा कि ऐसा कुछ नही है। वहां के लोग बिना किसी डर के वहां रह रहे हैं। वे देश भक्त लोग हैं तथा देश के लिए कुछ भी करने के लिए सदैव तैयार हैं। उन लोगों का कहना है कि वे देश के काम आएं, यह उनका सौभाग्य है। उनके विकास के कुछ मुद्दे हैं, उन पर बातचीत चल रही है। कुछ सेंसेटिव मुद्दे हैं, उन पर ज्यादा चर्चा नहीं होनी चाहिए। इन क्षेत्रों में अधिकतर आईटीबीपी तैनात है, जिसे सरकार हर तरह का सहयोग कर रही है।

सीमावर्ती क्षेत्रों में जहां तक हेलिपैड बनाने की बता है, उसे लेकर वहां तैनात आईटीबीपी अपने स्तर पर काम करेगी। प्रदेश सरकार उन्हें पूर्ण सहयोग देगी। वहीं प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनावों को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि बेशक कोरोना का माहौल है, लेकिन ये चुनाव समय पर ही संपन्न करवाए जाएंगे। कोरोना महामारी के चलते राज्य में बंद पड़े मंदिरों को खोलने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि फिलहाल 31 अगस्त तक मंदिरों को खोलने का कोई विचार नही है। देश सहित हिमाचल में कोरोना के मामले बड़े हैं। ऊपर से बरसात का मौसम है, जिसमें संक्रमण व वायरल की अधिक आशंका रहती है। उन्होंने कहा कि अगर आने वाले समय में प्रदेश में कोरोना के मामलों में कमी आती है, तो मंदिरों को खोलने पर विचार किया जा सकता है।

Next Story