Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Himachal Mausam Ki Jankari: मौसम विभाग की भविष्यवाणी, इन पांच जिलों में भारी बर्फबारी और ओलावृष्टि का अलर्ट

Himachal Mausam Ki Jankari: हिमाचल प्रदेश में लगातार हो रही बर्फबारी और बारिश ने प्रदेशवासियों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। कई जगह बारिश और बर्फबारी से जहां ठंड से कंपकंपी छूट गई, वहीं अगले कुछ दिन हालात और बिगड़ने वाले दिख रहे हैं।

Himachal Mausam Ki Jankari: मौसम विभाग की भविष्यवाणी, इन पांच जिलों में भारी बर्फबारी और ओलावृष्टि का अलर्ट जारी
X

मौसम की जानकारी

Himachal Mausam Ki Jankari: हिमाचल प्रदेश में लगातार हो रही बर्फबारी और बारिश ने प्रदेशवासियों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। कई जगह बारिश और बर्फबारी से जहां ठंड से कंपकंपी छूट गई, वहीं अगले कुछ दिन हालात और बिगड़ने वाले दिख रहे हैं। मौसम विभाग ने शिमला, किन्नौर, लाहुल-स्पीति, कुल्लू व चंबा के लिए हाई अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग द्वारा एडवाइजरी जारी की गई है कि राज्य के उक्त क्षेत्रों में चार व पांच जनवरी को भारी बर्फबारी होगी।

मौसम विभाग की मानें, तो उक्त दो दिन के दौरान प्रदेश के सोलन, ऊना, बिलासपुर, कांगड़ा औैर हमीरपुर में गर्जन के साथ भारी बारिश होगी। वहीं, उक्त क्षेत्रों में ओलावृष्टि होने का भी अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान प्रदेश के अधिकतर क्षेत्रों में कोल्ड वेब चलने की भी चेतावनी जारी की गई है। इससे पहले शुक्रवार को विभाग की ओर से भविष्यवाणी में कहा गया था कि सात जनवरी तक प्रदेश में कई जगहों पर बारिश होगी।

वहीं चार और पांच जनवरी को भारी बर्फबारी होने के चलते पांच जिला में लोगों को यातायात, पानी व बिजली संबधित परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस विंटर सीजन के दौरान मौसम विभाग द्वारा पहली बार एडवाइजरी जारी की गई है। प्रदेश में रात के समय पहले से ही कड़ाके की ठंड पड़ रही है। अगर मौसम विभाग का पूर्वानुमान स्टीक बैठता है, तो आगामी दिनों समूचे प्रदेश में जनता को रौद्र ठंड का सामना करना पडे़गा।

वहीं, उक्त क्षेत्रों में लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। जिन क्षेत्रों के लिए विभाग द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के निदेशक डा. मनमोहन सिंह ने कहा कि प्रदेश के शिमला, किन्नौर, लाहुल-स्पीति, कुल्लू व चंबा में चार व पांच भारी बर्फबारी होगी। उन्होंने उक्त क्षेत्रों के लोगों से आग्रह किया है कि अगर जरूरी हो तभी ही घरों से निकलें। खासतौर पर इन क्षेत्रों में पर्यटक सहित स्थानीय लोग ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जाने से बचें। उन्होंने लोगों से इस दौरान पूर्ण ऐतिहात बरतने की सलाह दी है।

Next Story