Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उधारी के रुपये देने से बचने के लिए खुद को घायल करना चाहता था युवक, भाइयों से मरवाई गोली, हो गई मौत

मृतक नाजिम की मंशा यह थी कि उसे शरीर के बाहरी भाग में गोली मारकर घायल कर दिया जाए और गोली मारने का आरोप रुपये उधार देने वाले व्यक्ति पर लगाया जाएगा, ताकि वह जानलेवा हमले के केस में फंस जाए और नाजिम को उधार लिए गए रुपये न लौटाने पड़े और उधार देने वाले से समझौते के नाम पर और राशि वसूल की जाए।

hilsa police station area former sarpanch shot dead during settle land dispute in Nalanda Murder case registered bihar crime news in hindi
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

पानीपत। पानीपत के चौटाला रोड पर सोमवार की देर रात उत्तर प्रदेश के कैराना निवासी 40 वर्षीय युवक नाजिम की गोली मारकर हत्या कर दी। सेक्टर 29 थाना पुलिस ने मृतक के ताऊ के बेटे गालिब को गिरफ्तार किया है, वहीं मृतक के सगे भाइयों तालिब व भूरा की पुलिस तलाश कर रही है, आरोपितों की गिरफ्तारी को कैराना पुलिस का भी सहयोग लिया जा रहा है।

पुलिस को यह बताया था मामला

गालिब ने मंगलवार की देर रात 112 नंबर पर पुलिस को जानकारी दी कि दो बाइकों पर सवार चार बदमाशों ने चौटाला रोड पर पानीपत से कैराना जा रहे नाजिम व गालिब की बाइक को हथियार के बल पर जबरन रूकवा लिया और दोनाें से दो हजार रूपये लूट लिए, नाजिम ने लूट का विरोध किया तो लुटेरों ने उसे दो गोलियां मार कर घायल कर दिया। पुलिस के सहयोग से गालिब घायल नाजिम को पानीपत के सिविल अस्पताल ले गया, जहां मेडिकल जांच के बाद डॉक्टरों ने नाजिम को मृत घोषित कर दिया।

मृतक नाजिम ने भाइयों के साथ मिलकर रचा था षडयंत्र

लूट के लिए नाजिम की हत्या करने की घटना को पानीपत पुलिस ने गंभीरता से लिया। गालिब बार-बार अपने बयान बदल रहा था, वहीं देर रात कैराना जाने के लिए बाइक सवार नाजिम व गालिब ने सनौली रोड जैसे सुरक्षित रास्ते से जाने के बजाए असुरक्षित चौटाला रोड से कैराना जाने के मामले को संदिग्ध मान कर जांच की। पुलिस को गालिब का शक हुआ और उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो हत्याकांड का खुलासा हुआ। गालिब व पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार नाजिम ने कैराना में किसी से बड़ी रकम उधार ले रखी थी, यह रकम न लौटानी पड़े, इसके लिए नाजिम ने अपने सगे भाई तालिब व भूरा और ताऊ के पुत्र गालिब के साथ मिलकर षडयंत्र रचा।

षडयंत्र के तहत नाजिम ने अपने शरीर में पथरी होने का नाटक किया और मंगलवार को गालिब, नाजिम को पथरी की दवाई दिलवाने बाइक पर बैठाकर पानीपत लाया, दोनों देर रात को पानीपत से कैराना जाने के लिए रवाना हुए। दोनों चौटाला रोड पर पहुंचे तो यहां पहले से ही कार सवार नाजिम के सगे भाई तालिब व भूरा मिले, दोनों ने अवैध हथियार गालिब को दिया। गालिब ने नाजिम के कंधे में गोली मारी, लेकिन गोली शरीर के अंदर घूम गई और छाती को चीरते हुए बाहर आई। इधर, भूरा व तालिब कार में सवार होकर कैराना चले गए और गालिब की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस की जांच में पता चला कि मृतक नाजिम की मंशा यह थी कि उसे शरीर के बाहरी भाग में गोली मारकर घायल कर दिया जाए और गोली मारने का आरोप रुपये उधार देने वाले व्यक्ति पर लगाया जाएगा, ताकि वह जानलेवा हमले के केस में फंस जाए और नाजिम को उधार लिए गए रुपये न लौटाने पड़े और उधार देने वाले से समझौते के नाम पर और राशि वसूल की जाए।

खून अधिक बहने से हुई नाजिम की मौत

हत्याकांड की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी रणबीर ने बताया कि नाजिम की उसके ही ताऊ के लड़के गालिब ने गोली मार कर हत्या की है, हत्याकांड में मृतक के सगे भाई तालिब व भूरा भी शामिल हैं, इनकी तलाश की जा रही है। दोनों की गिरफ्तारी के बाद ही नाजिम की मौत के मामले का सही तरीके से खुलासा हो पाएगा।

Next Story