Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जींद : गांव खरकगागर में मंदिर का चबूतरा तोड़कर मूर्तियों को किया खंडित, छह लोगों पर केस

आरोपितों ने पंचायत में उखाड़े गए चबूतरे व खंडित की गई मूर्तियों को दोबारा स्थापित करने की बात कहकर माफी भी मांगी थी। अब वे ग्रामीणों को बुरा अंजाम भुगतने की धमकी दे रहे हैं।

जींद : गांव खरकगागर में मंदिर का चबूतरा तोड़कर मूर्तियों को किया खंडित, छह लोगों पर केस
X

हरिभूमि न्यूज. जींद

गांव खरकगागर में मंदिर का चबूतरा उखाड़ने तथा मूर्तियों को खंडित करने पर पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस ने छह लोगों के खिलाफ धार्मिक स्थल पर तोड़फोड़ करने तथा धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करने का मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। गांव खरकगागर निवासी सुशील ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि गांव में ग्रामीणों ने काली माता मंदिर बनाया हुआ है। जिसमें शिव परिवार तथा शिवलिंग की स्थापना की हुई है।

गत 22 जुलाई देर रात को गांव के ही सूरता परिवार के कुछ लोगों ने मंदिर के चबूतरे को उखाड़ दिया और वहां रखी मूर्तियों को खंडित कर दिया। जिसको लेकर गांव में पंचायत का आयोजन भी किया गया। जिसमें आरोपिताें ने उखाड़े गए चबूतरे व खंडित की गई मूर्तियों को दोबारा स्थापित करने की बात कहकर माफी भी मांगी। जिस पर आरोपितों ने एक दिन काम करने के बाद उसे रोक दिया। जब ग्रामीणों ने चबूतरे व खंडित की गई मूर्तियों को जल्द स्थापित करने के लिए कहा तो उन्होंने साफ मना कर दिया और बुरा अंजाम भुगतने की धमकी दी। मंदिर में की गई तोड़फोड़ तथा मूर्तियों के खंडित किए जाने से श्रद्धालुओं की भावनाएं आहत हुई है। पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस ने सुशील की शिकायत पर बलवान, प्रताप, प्रदीप, विजय, सुभाष, चरणसिंह के खिलाफ धार्मिक स्थल पर तोडफोड करने तथा धार्मिक भावनाओं से खिलवाड करने का मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पिल्लूखेड़ा थाना के जांच अधिकारी नरेंद्र ने बताया कि मंदिर का चबूतरा तोडने तथा मूर्तियों को खंडित करने पर छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

Next Story