Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चोरी की 19 मोटरसाइकिलों सहित सात गिरफ्तार, ऐसे देते थे वारदात को अंजाम

पिता-पुत्र बाइक चुराकर चोरीशुदा मोटरसाइकिल अपने साथियों तथा कबाड़ी को बेच देते थे करीब 3 हजार रुपये के औने-पौन दाम पर।

चोरी की 19 मोटरसाइकिलों सहित सात गिरफ्तार, ऐसे देते थे वारदात को अंजाम
X

मोटरसाइकिलों सहित काबू किए आरोपित।

हरिभूमि न्यूज. कैथल

सीआईए-टू पुलिस ने एक शातिर चोरगिरोह का भंडाफोड़ किया गया है। गिरोह के 7 सदस्यों को गिरफतार करके उनके कब्जे से 3 लाख से ज्यादा मूल्य की 19 चोरीशुदा मोटरसाइकिल बरामद की हैं। गिरोह से जुड़े 3 अन्य सदस्यों की भी पुख्ता पहचान कर ली गई है, जिनकी तलाश की जा रही है। सातों आरोपी शुक्रवार को अदालत में पेश कर दिए गये, जहां से सभी को न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय कुलवंत सिंह ने बताया कि कैथल व गुहला-चीका क्षेत्र में बाइक चोरी की निरंतर बढ़ रही घटनाओं को लेकर पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह द्वारा सीआईए-टू प्रभारी इंस्पेक्टर सोमबीर को घटनाओं पर अंकुश लगाने के आदेश दिए गए थे। सीआईए-टू पुलिस के सहायक उपनिरिक्षक प्रदीप कुमार की टीम द्वारा 22 अप्रैल को एक बाइक पर आए रणजीत सिंह तथा धनवंत उर्फ धन्ना दोनों निवासी बुबकपुर को काबू किया गया। जांच के दौरान उक्त बाइक सुखवंत सिंह निवासी बदसुई की पाई गई। जिसकी शिकाय पर चीका में दर्ज है। दोनों आरोपियों से पूछताछ की गई तो दोनों ने कबूला कि यह मोटरसाइकिल उन्होंने गुहला में कबाड़ी की दुकान करने वाले जसबीर उर्फ लाडी निवासी गुहला से औने-पौन दाम में खरीदी थी, तथा उक्त मोटरसाइकिल के अतिरिक्त उन्होंने 2 अन्य बाइक भी कबाडी से सस्ते दाम में खरीदी हुई है। धनवंत की निशानदेही पर उसके मकान से 2 अन्य चोरीशुदा मोटरसाइकिल बरामद कर ली गई।

डीएसपी ने बताया कि पुलिस ने कबाड़ी जसबीर सिंह उर्फ लाड़ी की दुकान पर दबिश देकर आरोपी जसबीर को गिरफ्तार कर लिया। दुकान के अंदर से 3 चोरीशुदा मोटरसाइकिल तथा 4 अन्य चोरीशुदा बाइकों के इंजन व अन्य स्पेयर पार्ट बरामद कर लिए गए। जसबीर ने कबूला कि उसने उपरोक्त सभी चोरीशुदा मोटरसाइकिल नवजोत उर्फ जोत तथा जोत के पिता हरनेक वासीयान वार्ड नंबर 14 चीका से चोरीशुदा बाइक होने की जानकारी होने उपरांत औने-पौन दाम में खरीदी थी, जिनको वह कुछ मुनाफा लेकर आगे बेच देता था। नवजोत को बस अड्डा चीका के पास से एक चोरीशुदा बुलैट बाइक सहित काबू कर लिया गया। जिसके कब्जे से बरामद की गई बुलैट मोटरसाइकिल जितेंद्र निवासी थेह बनहेड़ा की पाई गई शातिर गिरोह सरगना नवजोत से पुलिस द्वारा गहन पूछताछ की गई तो आरोपी की निशानदेही पर उसके मकान से 7 अन्य चोरीशुदा मोटरसाइकिल बरामद की गई। इसके अतिरिक्त आरोपी नवजोत के कब्जे से चोरीशुदा बाइक बेचकर प्राप्त की गई 1500 रुपए नकदी तथा चोरी की वारदातों को अंजाम देने में प्रयुक्त दो मास्टर की सीआईए-टू पुलिस द्वारा बरामद कर ली गई।

डीएसपी मुख्यालय कुलवंत सिंह ने बताया कि सीआईए-टू पुलिस के हेडकांस्टेबल बलकार सिंह की टीम द्वारा उपरोक्त गिरोह से जुड़े एक अन्य मामले में सलेमपुर-खरौदी सड़क पुल के पास से नाकाबंदी के दौरान एक बाइक पर सवार संदीप सिंह निवासी नंदगढ़, राजु निवासी चीका तथा जैला राम उर्फ पप्पु निवासी कल्लर माजरा को काबू कर लिया गया। जांच के दौरान यह मोटरसाइकिल दिलबाग सिंह निवासी नंदगढ की पाई गई। जिसकी शिकायत पर थाना गुहला में पहले ही दर्ज अभियोग अनुसार 9 अक्टूबर को उसकी उपरोक्त मोटरसाइकिल गुहला तहसील से अज्ञात व्यक्ति चुरा ले गए थे। पूछताछ के दौरान तीनों उपरोक्त आरोपियों ने यह चोरीशुदा बाइक चोरी की जानते हुए नवजोत तथा उसके पिता हरनेक से औने-पौने दाम में खरीदना कबूला है। गिरोह सरगना नवजोत के पिता हरनेक सहित गिरोह से जुडे 3 अन्य आरोपियों की पुलिस द्वारा पुख्ता पहचान कर ली गई, जिनकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है।



Next Story