Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पौली गांव के पास टूटी भिवानी ब्रांच नहर

राहत कार्य में 2 जेसीबी की मदद ली गई। सूचना पाकर महम के पूर्व विधायक आनंद सिंह दांगी भी मौके पर पहुंचे। आनंद सिंह दांगी ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार किसानों के साथ अन्याय कर रही है।

पौली गांव के पास टूटी भिवानी ब्रांच नहर
X

हरिभूमि न्यूज. जुलाना। गांव पौली के पास भिवानी ब्रांच नहर टूट गई जिससे पौली गांव के दर्जनों एकड़ में पानी भर गया और खरक गांव में लगभग 800 एकड़ फसल जलमग्न हो गई। भिवानी ब्रांच नहर खरक माईनर के पास टूट गई।

सूचना पाकर सिंचाई विभाग के कर्मचारी और अधिकारी मौके पर पहुंचे और तीन घंटे की कड़ी मशक्त के बाद माइनर को बंद किया। किसानों ने बताया कि रात को चार बजे खरक माईनर ऑवरफ्लो हो गई जिसे पौली गांव के दर्जनों एकड़ खेतों में पानी भर गया तो खरक गांव के पाए माईनर की पटरी टूट गई और पानी का बहाव खरक गांव की ओर हो गया।

राहत कार्य में 2 जेसीबी की मदद ली गई। सूचना पाकर महम के पूर्व विधायक आनंद सिंह दांगी भी मौके पर पहुंचे। आनंद सिंह दांगी ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार किसानों के साथ अन्याय कर रही है। एक ओर तो किसान अपने हक पाने के लिए सड़क पर है वहीं दूसरी ओर सिंचाई विभाग की लापरवाही के कारण माईनर टूट गई जिससे किसानों को काफी नुकसान हुआ है।

किसान 50 से 55 हजार रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से जमीन ठेके पर लेकर और खेती में लगभग 20 हजार रुपये की लागत भी आती है सरकार को किसानों को एक लाख रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से मुआवजा देना चाहिए।

नहर विभाग की लापरवाही के कारण टूटी है। नहर 4 बजे टूटी लेकिन सिंचाई विभाग के अधिकारी 9 बजे मौके पर पहुंचते हैं। सरकार को चाहिए कि जल्द से जल्द खेतों का पानी निकालने के पंप लगाए और खराब हुई फसल का मुआवजा जल्द से जल्द दे। सूचना पाकर लाखनमाजरा के तहसीलदार भी मौके पर पहुंचे और खेतों से पानी निकालने के लिए किसानों को पंप सैट लगवाने का आस्वासन दिया।

Next Story