Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में साल की भयंकर ठंड, पारा गिरकर 2 डिग्री पर पहुंचा, IMD ने दी चेतावनी

Mausam Ki Jankari: एक व्यक्ति ने बताया कि काफी कोहरे की वजह से गाड़ियां काफी धीरे-धीरे चल रही है, मुझे जहां 15 मिनट में पहुंचना था वहां मैं 30 मिनट में पहुंच रहा हूं। घने कोहरे में लोगों को आने जाने में काफी परेशानी झेलनी पड़ी। जबकि कोहरे के कारण दिल्ली-एनसीआर में यातायात व्यवस्था बिगड़ती नजर आई है।

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में साल का भयंकर ठंड, न्यूनतम तापमान गिरकर 2 डिग्री पर पहुंचा, IMD ने दी चेतावनी
X

दिल्ली में साल का भयंकर ठंड

Mausam Ki Jankari: दिल्ली में आज सीजन का सबसे भीषण ठंड देखने को मिली। इस हाड़ कंपकंपा देने वाली ठंड में लोगों का हाल बेहाल हो गया है। दिल्ली की कड़ाके की ठंड से बचने के लिए लोग आग सहारा ले रहे है। वहीं दिल्ली में आज सुबह घना कोहरा छाया रहने की वजह से विज़िबिलिटी काफी कम रही। एक व्यक्ति ने बताया कि काफी कोहरे की वजह से गाड़ियां काफी धीरे-धीरे चल रही है, मुझे जहां 15 मिनट में पहुंचना था वहां मैं 30 मिनट में पहुंच रहा हूं। घने कोहरे में लोगों को आने जाने में काफी परेशानी झेलनी पड़ी। जबकि कोहरे के कारण दिल्ली-एनसीआर में यातायात व्यवस्था बिगड़ती नजर आई है।

मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस रहेगा। सिंघु बॉर्डर पर ठंड और कोहरे की वजह से ऑटो चालकों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। एक ऑटो चालक ने बताया कि सवारी का इंतज़ार बहुत देर से कर रहे हैं लेकिन सवारी नहीं मिल रही है। कोहरे की वजह से गाड़ी धीरे चलानी पड़ती है और डर भी लगता है। पहले बहुत काम था अब काम नहीं है। वहीं दिल्ली के पालम इलाके में सुबह 6.2 डिग्री तापमान दर्ज किया गया तो वही सफदरजंग में 2 डिग्री तापमान दर्ज की गई। एक जनवरी के बाद यह पहली बार है जब दिल्ली में तापमान इतना नीचे गया है।

इससे पहले भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि बर्फ से ढके पश्चिमी हिमालय से हवाओं के मैदानी इलाकों की ओर आने कारण दिल्ली में बुधवार को शीत लहर का कहर जारी रहेगा। इसके साथ ही न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आईएमडी के अनुसार, शहर के कुछ इलाकों में घना कोहरा छाने से दृश्यता 50 मीटर ही रह गई। आईएमडी ने बताया कि घना कोहरा छाने के कारण पालम में दृश्यता 50 मीटर और सफदरजंग में 200 मीटर दर्ज की गई। आईएमडी के अनुसार शून्य से 50 मीटर के बीच दृश्यता होने पर कोहरा बेहद घना, 51 से 200 मीटर के बीच घना, 201 से 500 के मीटर के बीच मध्यम और 501 से 1000 के बीच दृश्यता होने पर कोहरे को हल्का माना जाता है।

Next Story