Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Riots पर गवाही के लिए दिल्ली विधानसभा ने Facebook के प्रतिनिधियों को किया तलब, जानें क्या है मामला

फरवरी 2020 में हुए दिल्ली दंगे (Delhi Violence) पर दिल्ली विधानसभा (Delhi Assembly) की शांति और सद्भाव समिति ने फेसबुक इंडिया (Facebook India) के प्रतिनिधियों को 2 नवंबर को तलब किया है।

Delhi Riots पर गवाही के लिए दिल्ली विधानसभा ने Facebook के प्रतिनिधियों को किया तलब, जानें क्या है मामला
X

देश की राजधानी दिल्ली में फरवरी 2020 में हुए दंगों (Delhi Violence) पर दिल्ली विधानसभा (Delhi Assembly) की शांति और सद्भाव समिति ने फेसबुक इंडिया (Facebook India) के प्रतिनिधियों को 2 नवंबर को गवाही देने के लिए बुलाया है। समिति ने एक पत्र में कहा कि वह समाज में असामंजस्य पैदा करने वाले झूठे और दुर्भावनापूर्ण संदेशों को रोकने में सोशल मीडिया (Social Media) दिग्गज की भूमिका पर ध्यान केंद्रित करेगी।

समिति ने कहा, चूंकि दिल्ली के एनसीटी में फेसबुक के लाखों उपयोगकर्ता हैं, इसलिए समिति ने फेसबुक इंडिया के प्रतिनिधियों के विचारों को सुनने का निर्णय किया है। ईस्ट दिल्ली में एंटी-सिटीजनशिप और सिटीजनशिप अमेंडमेंट एक्ट (Anti-Citizenship and Citizenship Amendment Act) के प्रदर्शनकारियों के बीच हुई हिंसा के बाद समिति का गठन किया गया था।

हंगामे का समय अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की पहली भारत यात्रा से मेल खाता था। चिठ्ठी में आगे कहा गया है कि जर्नलिस्ट्स, फॉर्मर ब्यूरोक्रेट्स और कम्युनिटी (Journalists, former bureaucrats and the community) के नेताओं सहित विभिन्न व्यक्ति अपने सबूत और सुझाव देने के लिए समिति के सामने पेश हुए हैं।

समिति ने देखा है और उसकी राय है कि हिंसा और असामंजस्य को बढ़ावा देने वाले झूठे, भड़काऊ और दुर्भावनापूर्ण संदेशों के प्रसार को रोकने में सोशल मीडिया (Social Media) की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है। समिति ने फेसबुक इंडिया को एक सक्षम वरिष्ठ प्रतिनिधि भेजने के लिए कहा है जो इस मुद्दे से अच्छी तरह वाकिफ हो। लेकिन साथ ही सोशल मीडिया कंपनी को कोरोना स्थिति के कारण प्रतिनिधियों की संख्या को न्यूनतम करने के लिए कहा गया है।

Next Story