Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रविन्द्र चौबे बोले- टीएस सिंहदेव गलतफहमी के कारण सदन से बाहर गए, बातचीत से सुलह के रास्ते खुल जाएंगे

सरकार के प्रवक्ता रविन्द्र चौबे ने मंत्री टीएस मामले में प्रतिक्रिया दी. मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा ऐसा लगता है कि मंत्री टीएस सिंहदेव जी जिस तरह से सदन से बाहर गए हैं वो गलतफहमी के आधार पर बाहर गए हैं. उनसे बातचीत करके मामले को शार्ट आउट करने का प्रयास होगा. बातचीत से सुलह के रास्ते खुल जाएंगे. उनसे लगातार बातचीत चल रही है. आगे भी बातचीत होगी. टीएस सिंहदेव हमारी सरकार के वरिष्ठ मंत्री हैं.

रविन्द्र चौबे बोले- टीएस सिंहदेव गलतफहमी के कारण सदन से बाहर गए, बातचीत से सुलह के रास्ते खुल जाएंगे
X

रायपुर. सरकार के प्रवक्ता रविन्द्र चौबे ने मंत्री टीएस मामले में प्रतिक्रिया दी. मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा ऐसा लगता है कि मंत्री टीएस सिंहदेव जी जिस तरह से सदन से बाहर गए हैं वो गलतफहमी के आधार पर बाहर गए हैं. उनसे बातचीत करके मामले को शार्ट आउट करने का प्रयास होगा. बातचीत से सुलह के रास्ते खुल जाएंगे. उनसे लगातार बातचीत चल रही है. आगे भी बातचीत होगी. टीएस सिंहदेव हमारी सरकार के वरिष्ठ मंत्री हैं.

बता दें कि मंत्री टीएस सिंहदेव ने आज सदन से बहिर्गमन हो गए. विधानसभा की कार्यवाही छोड़कर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव सीधे सिविल लाइन स्थित शासकीय बंगले पहुंच गए. सिंहदेव ने सदन में कहा कि जब तक मामले में शासन का स्पष्ट वक्तव्य नहीं आ जाता वह सदन की कार्यवाही में हिस्सा नहीं लेंगे. मंत्री टीएस सिंहदेव के बहिर्गमन करते ही विधानसभा में मुख्यमंत्री कक्ष में आपात बैठक शुरू हो गई.

थोड़ी देर बाद विधानसभा की कार्यवाही फिर शुरू हुई. भाजपा सदस्यों ने कहा कि टीएस सिंहदेव अपनी सरकार के जवाब से दुखी होकर चले गए. ऐसी स्थिति में सदन चलाने का कोई औचित्य नहीं है. उन्होंने फिर से सदन की कमेटी गठित इसकी जांच कराने की मांग की.

शिवरतन शर्मा ने कहा कि गृहमन्त्री का बयान उस घटना से अलग था. इसलिए अपनी स्थिति स्पष्ट नहीं होने पर सिंहदेव ने बहिर्गमन किया है. नेता प्रतिपक्ष ने अध्यक्ष से इस मामले हस्तक्षेप करने की मांग की और कहा कि स्थिति स्पष्ट होनी चाहिए

डॉ रमन सिंह ने कहा कि ये पूरे सदस्य के मान सम्मान का मामला है. अध्यक्ष ने कहा कि इस पर विचार किया जाएगा. भाजपा सदस्य विधानसभा की आगे की कार्यवाही के लिए तैयार नहीं है वो इस मामले की विधानसभा की कमेटी से जांच की मांग पर अड़े रहे.

Next Story