Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसानों के नाम पर दोहरे मापदंडों की राजनीति कब तक करती रहेगी भाजपा

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि केंद्र द्वारा कथित सम्मान निधि का 500 करोड़ रुपए दिए जाने पर भारी गुणगान करने वाली भाजपा राजीव गांधी किसान सम्मान योजना में छत्तीसगढ़ के किसानों को 6000 करोड़ से अधिक की राशि दिए जाने का स्वागत क्यों नहीं करती? भाजपा दोहरे मापदंडों की राजनीति कब तक करती रहेगी?

किसानों के नाम पर दोहरे मापदंडों की राजनीति कब तक करती रहेगी भाजपा
X

 किसान (प्रतीकात्मक फोटो)

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि केंद्र द्वारा कथित सम्मान निधि का 500 करोड़ रुपए दिए जाने पर भारी गुणगान करने वाली भाजपा राजीव गांधी किसान सम्मान योजना में छत्तीसगढ़ के किसानों को 6000 करोड़ से अधिक की राशि दिए जाने का स्वागत क्यों नहीं करती? भाजपा दोहरे मापदंडों की राजनीति कब तक करती रहेगी?

उन्होंने कहा है कि भाजपा का किसान विरोधी चरित्र उजागर हो चुका है। किसान सम्मान निधि केंद्र सरकार किस्तों में दे तो उचित है और राज्य सरकार राजीव गांधी किसान सम्मान योजना की राशि कोरोना के विपरीत परिस्थितियों में भी किसानों को दे रही है तो इसमें भाजपा को बड़ी तकलीफ है। उन्होंने पूछा है कि धान के बोरे के 15 रुपए पर राजनीति करने वाली भाजपा डीएपी का दाम 1900 रुपए किए जाने पर क्यों खामोश है? 62 रुपए का डीज़ल 92 का और प्रधानमंत्री 2000 रुपए खाते में डालकर यूं दिखा रहे हैं मानों किसानों पर एहसान कर दिया। बृजमोहन अग्रवाल स्वयं भाजपा सरकार में मंत्री रहे। किसानों के साथ की गई धोखाधड़ी और किसानों के हक के पैसों की लूट के कुचक्र में भागीदार और सहभागी रहे हैं।

गंगाजल की शपथ को शराबबंदी से जोड़ना गलत

उन्होंने कहा है कि कृषि ऋणमाफी के लिए कांग्रेस नेताओं ने पत्रकारवार्ता लेकर गंगाजल उठाया था कि इसे 10 दिन में पूरा किया जाएगा। इसे 10 दिन क्या, 10 घंटे भी नहीं लगे और कांग्रेस सरकार ने कृषि ऋणमाफी का फैसला लिया। भाजपा बार-बार गंगाजल की शपथ को शराबबंदी से जोड़कर गंगाजल की शपथ का अपमान कर रही है, जिसके लिए भाजपा को कभी कोई माफ नहीं करेगा।

कांग्रेस, भाजपा की तरह किसान विरोधी नहीं

छत्तीसगढ़ के किसानों के धान से बना चावल तक एफसीआई के गोदामों में नहीं लिया गया और मजबूरन धान को कम कीमत पर छत्तीसगढ़ सरकार को बेचना पड़ा। किसानों को 9000 रुपए प्रति एकड़ की राजीव गांधी किसान न्याय योजना की सहायता हर वर्ष जारी रहेगी। भूपेश बघेल की सरकार भाजपा की रमन सरकार की तरह किसान विरोधी नहीं है जो किसानों के हक के पैसे पर डकैती डाले।


Next Story