Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार के 38 जिलों में प्रवासी मजदूरों को रोजगार देगी सरकार, छोटे उद्योग खोलने की हो रही तैयारी

भाजपा नेता नंद किशोर यादव ने कहा कि बिहार के सभी 38 जिलों में प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिये छोटे उद्योग खोले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मजदूरों को रोजगार दिलाना हमारी प्राथमिकता है।

बिहार के 38 जिलों में प्रवासी मजदूरों को रोजगार देगी सरकार, छोटे उद्योग खोलने की हो रही तैयारी
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार सरकार में पथ निर्माण विभाग के मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता नंद किशोर यादव ने ट्वीट कर जानकारी दी कि प्रवासी मजदूरों को सूबे में रोजगार उपलब्ध कराना हमारी प्राथमिकता में है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के साथ दूसरे राज्यों से बिहार लौटे प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलब्ध करवाया जायेगा।

नंद किशोर यादव ने कहा कि इसी उद्देश्य को प्राप्त करने के लिये बिहार सरकार द्वारा जिला औद्योगिक नव प्रवर्तन योजना के तहत सूबे के सभी 38 जिलों में छोटे उद्योग खोले जा रहे हैं। वहीं पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने बताया कि इसी उद्देश्य को हासिल करने के लिये बिहार सरकार ने सभी जिलों को 50-50 लाख रुपये भी जारी कर दिये हैं। जिससे प्रवासी मजदूरों को उनके घरों के पास ही काम मिल सके। नंद किशोर यादव ने बताया कि बेगूसराय व कैमूर में छोटे उद्योग का निर्माण कार्य शुरू भी हो गया है।



सूबे के छात्र-छात्राओं को अब नहीं होना पड़ेगा लाचार: पथ निर्माण मंत्री

नंद किशोर यादव ने अन्य ट्वीट के माध्यम से बताया कि बिहार के छात्र-छात्राओं को अब लाचार नहीं होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि सूबे में उच्च शिक्षा के द्वार खोले जायेंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए बिहार में एनडीए सरकार द्वारा हर प्रयास किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि बिहटा में एनआईटी में लगभग 500 करोड़ रुपये की लागत से नये परिसर का निर्माण करवाया जा रहा है। नंद किशोर यादव ने कहा कि इस नये परिसर की क्षमता 6000 स्टूडेंट्स की होगी।




Next Story