Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार: किशनगंज में निजी अस्पताल ने जिंदा महिला को बताया मृत, परिजनों ने की तोड़फोड़

बिहार के किशनगंज जिले में एक प्राइवेट नर्सिंग होम ने जीवित महिला मरीज को मृत घोषित कर दिया गया। जिसके बाद मरीज के परिजनों ने जबरदस्त तोड़फोड़ की। घटना की सूचना पर मौके पर पुलिस पहुंची और हंगामे को शांत कराने में जुट गई।

bihar private hospital in kishanganj told the woman dead family members vandalized
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

मामला सदर थाना क्षेत्र के पश्चिम पाली में अवस्थित निजी नर्सिंग होम का है जहां मरीज के परिजनों ने जबरदस्त तोड़फोड़ की है। जानकारी के अनुसार निजी नर्सिंग होम में जीवित महिला मरीज को मृत घोषित करने पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। नगर परिषद के फरिंगगोला की रहने वाली एक महिला हृदय रोग से पीड़ित थीं। उनका इलाज डॉ. आसिफ रेजा की निगरानी में चल रहा था।

शनिवार की सुबह मरीज की हालत बिगड़ने पर डॉक्टर ने बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया और आईसीयू में भर्ती कराने की सलाह दी। महिला के परिजन आनन-फानन में इसे लेकर रेडियंट नर्सिंग होम पहुंचे। मरीज के परिजनों के मुताबिक यहां पर अस्पताल के डॉक्टर ने कुछ देर तक मरीज को रोककर रखा फिर बिना चेकअप किये महिला को मृत घोषित कर दिया। इससे गुस्साये लोगों ने हॉस्पिटल में जमकर तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया। वहीं नर्सिंग होम के डॉक्टर से पूछताछ करने पर वे संवाददाताओं पर भी भड़क गये और मीडियाकर्मियों को धमकी देने लगे और कैमरा बंद करने की बात कही।

घटना की सूचना के कुछ देर बाद टाउन थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर श्याम किशोर यादव दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे और गुस्साए लोगों को शांत कराने में जुट गये। उधर सूचना मिलने एसडीओ शाहनवाज अहमद नियाजी ने भी मौके पर पहुंच आक्रोशित लोगों को शांत कराया। इसके बाद इलाज के लिए मरीज के परिजन महिला को लेकर पूर्णिया रवाना हो गये। वहीं पूर्णिया ले जाने के दौरान महिला की मौत हो गई है।

Next Story