Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान की तीन विधानसभा सीटों पर 17 अप्रैल को होगा उपचुनाव, पहली बार नामांकन ऑनलाइन दाखिल कर सकेंगे प्रत्याशी

निर्वाचन आयोग ने राज्य की चार खाली सीटों में से तीन के लिए उपचुनाव कार्यक्रम की घोषणा की है। इसके अनुसार राजसमंद जिले की राजसंमद, भीलवाड़ा जिले की सहाड़ा और चूरू जिले की सुजानगढ़ अजा विधानसभा सीटों के लिए मतदान 17 अप्रैल को होगा, जबकि मतगणना दो मई को करवाई जाएगी।

राजस्थान की तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव 17 अप्रैल को, पहली बार नामांकन ऑनलाइन दाखिल कर सकेंगे प्रत्याशी
X

राजस्थान की तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव 17 अप्रैल को

जयपुर। भारत निर्वाचन आयोग (Election Commission) ने राजस्थान की तीन विधानसभा सीटों (Vidhansabha Seats) पर उप चुनाव के लिए कार्यक्रम जारी किया जिसके तहत यहां 17 अप्रैल को मतदान होगा। तीनों विधानसभाओं में कुल 7.43 लाख से अधिक मतदाता (Voters) वोट डाल सकेंगे। आयोग ने पहली बार प्रत्याशियों को नामांकन ऑनलाइन (Online) दाखिल करने की सुविधा भी दी है। निर्वाचन आयोग ने राज्य की चार खाली सीटों में से तीन के लिए उपचुनाव कार्यक्रम की घोषणा की है। इसके अनुसार राजसमंद जिले की राजसंमद, भीलवाड़ा जिले की सहाड़ा और चूरू जिले की सुजानगढ़ अजा विधानसभा सीटों के लिए मतदान 17 अप्रैल को होगा, जबकि मतगणना दो मई को करवाई जाएगी। तीनों विधानसभाओं में कुल सात लाख 43,802 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे।

23 मार्च को जारी होगी अधिसूचना

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि अधिसूचना 23 मार्च को जारी होगी। अधिसूचना जारी होने के साथ ही नामांकन दाखिल करने का काम शुरू हो जाएगा। 30 मार्च तक नामांकन दाखिल किए जा सकेंगे। 31 मार्च को नामांकन पत्रों की जांच व संवीक्षा होगी तथा तीन अप्रैल तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। 17 अप्रेल को मतदान होगा, जबकि मतगणना दो मई को करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि तीनों विधानसभाओं में 1,145 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं। इनमें सहाड़ा में 387, सुजानगढ़ में 418 और राजसमंद में 340 मतदान केंद्र बनाए हैं। उन्होंने बताया कि सभी निर्वाचन क्षेत्रों में शत-प्रतिशत फोटो पहचान पत्र का वितरण किया जा चुका है। गुप्ता ने कहा कि कोरोना के चलते इस बार आयोग ने ऑनलाइन नामांकन की भी वैकल्पिक व्यवस्था दी है। साथ ही चुनावी सभा करने, वाहनों की अनुमति लेने जैसे कई कार्य ऑनलाइन संपादित किए जा सकते हैं। वहीं 80 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोग और दिव्यांग डाक मतपत्र के जरिए मतदान कर सकेंगे।

उल्लेखनीय है कि सहाड़ा से कांग्रेस विधायक कैलाश त्रिवेदी, सुजानगढ़ से कांग्रेस विधायक मास्टर भंवर लाल व राजसमंद से भाजपा विधायक किरण महेश्वरी का निधन हो चुका है। राज्य की वल्लभनगर (उदयपुर) सीट पर भी उपचुनाव होना है जहां से कांग्रेस विधायक गजेन्द्र सिंह शक्तावत का इस साल जनवरी में निधन हो गया था। हालांकि इसके लिए चुनाव कार्यक्रम अभी घोषित नहीं किया गया है। राजस्थान विधानसभा की 200 सीटों में से चार फिलहाल खाली हैं। सदन में सत्ताधारी कांग्रेस के 104 सदस्य हैं और भाजपा के 71 विधायक हैं। इसी तरह 13 विधायक निर्दलीय हैं जबकि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के तीन, भारतीय ट्राइबल पार्टी के दो, माकपा के दो व आरएलडी का एक विधायक है।

Next Story