Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल में एकजुट होने लगे कांग्रेसी नेता, भाजपा पर साधा निशाना

कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष कौल सिंह ठाकुर, पूर्व मंत्री जीएस बाली, पूर्व सांसद विप्लव ठाकुर और चंद्र कुमार सहित अन्य कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार पर बड़ा हमला किया है।

हिमाचल में एकजुट होने लगे कांग्रेसी नेता, भाजपा पर साधा निशाना
X

धर्मशाला में कांग्रसी नेता।

कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष कौल सिंह ठाकुर, पूर्व मंत्री जीएस बाली, पूर्व सांसद विप्लव ठाकुर और चंद्र कुमार सहित अन्य कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार पर बड़ा हमला किया है। नेताओं ने कहा है कि सत्ताधारी दल भ्रष्टाचार के दलदल में फंस चुका है। कौल सिंह ने सीधा मोर्चा मुख्यमंत्री, जल शक्ति मंत्री व स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ खोलते हुए कहा कि जल शक्ति विभाग और स्वास्थ्य विभाग में कई बड़े घोटाले सामने आए हैं। जल शक्ति विभाग में टेंडर होने से पहले ही पाइपों की खरीद हो जा रही है, तो स्वास्थ्य महकमे में सात रुपए के मास्क 16 में खरीदे गए हैं।

उन्होंने कहा कि ऑक्सीमीटर खरीद में भी बड़ा घोटाला हुआ है। इसके लिए कोविड काल में हुई खरीद की जांच करवाई जाए। उन्होंने कहा कि सरकार के मंत्री भू-माफिया बन गए हैं। भूमि की खरीद फरोख्त बड़े स्तर पर चल रही है। खनन माफिया भी सरकार में सक्रिय है। जनता पर कई तरह के बोझ लाद दिए हैं। इन्वेस्टर मीट के नाम पर जयराम सरकार ने करोड़ों रुपए खर्चे, लेकिन धरातल पर कुछ भी नजर नहीं आ रहा है। कौल सिंह ने कहा कि कांगड़ा के मंत्री अपने काम में लगे हुए हैं और जिला का विकास पूरी तरह से ठप पड़ा हुआ है।

भूमि खरीद मामले की जांच करने की मुख्यमंत्री ने बात कही थी, लेकिन कुछ नहीं हो पाया। उन्होंने कहा कि बिंदल के इस्तीफे पर भी भाजपा स्थिति स्पष्ट नहीं कर पाई है। इस अवसर पर पूर्व सांसद चंद्र कुमार ने भी केंद्र व प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पठानकोट-जोगिंद्रनगर रेललाइन पर दोनों सरकारों ने जनता को गुमराह किया है। मेयर एवं प्रदेश महामंत्री देवेंद्र जग्गी, अजय वर्मा, मीडिया पैनलिष्ट पुनीत मल्ली, जितेंद्र शर्मा, प्रदेश सचिव राजेश राजा, हंस राज, कर्ण परमार सहित कई कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता भी मौके पर उपस्थित रहे।

मोदी सरकार में मित्र देश बने दुश्मन

पूर्व सांसद विप्लव ठाकुर ने सरकार पर कई सवाल खड़े करते हुए कहा कि मोदी सरकार में महिलाओं के हित सुरक्षित नहीं हैं। हिमाचल में कांग्रेस एक है और सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर जनता के बीच जा रही है। उन्होंने मोदी सरकार की विदेश नीति पर भी सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जो देश भारत के मित्र देश थे, अब वह भी विरोधी हो गए हैं।

बाली की सीएम को चुनौती

पूर्व मंत्री जीएस बाली ने कहा कि कांग्रेसी एक हैं और प्रदेश भर के तमाम बड़े नेता इकट्ठे होकर अब भाजपा सरकार के खिलाफ खड़े हो गए हैं। प्रदेश का राजस्व बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। साठ हजार करोड़ से अधिक का कर्ज प्रदेश पर हो गया है। पठानकोट-मंडी फोरलेन और दोनों बड़े सड़कें प्रदेश सरकार की नाकामी के चलते हाथ से चली गईं। कांगड़ा से भेदभाव हो रहा है। जीएस बाली ने कहा कि इस मुद्दे पर वह मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से खुली डिबेट कर सकते हैं।

Next Story