Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पानीपत के युवक का अफ्रीकी देश मोजाम्बिक में अपहरण, परिजनों ने पीएम व गृह मंत्रालय से लगाई गुहार

इस्लामिट स्टेट से जुड़े आतंकियों ने किया फ्रांस की कंपनी के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों का अपहरण, एक बिलियन डॉलर की फिरौती मांगी।

पानीपत के युवक का अफ्रीकी देश मोजाम्बिक में अपहरण, परिजनों ने पीएम व गृह मंत्रालय से लगाई गुहार
X

विनोद बेनिवाल और जानकारी देते  उनकी पत्नी सीमा, बेटी व बेटा

पानीपत। अफ्रीका महाद्वीप के देश मोजाम्बिक में इस्लामिक स्टेट से जुड़े आतंकवादियों ने वहां पर नैचुर गैस का प्लांट लगा चुकी फ्रांस की कंपनी के अधिकारियों व कर्मचारियों का अपहरण कर लिया है। वहीं आतंकियों ने अपहृत लोगों को छोडे जाने की एवज में एक बिलियन डॉलर की मांग की है। अपहृत लोगों में पानीपत के कस्बा समालखा निवासी विनोद बेनिवाल भी शामिल है। विनोद फ्रांस की कंपनी में ब्रांच मैनेजर के रूप में नियुक्त है। विनोद के भाई सतेंद्र ने बताया कि विनोद अपनी कंपनी के सहयोगी अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ मोजाम्बिक के पाल्मा शहर में नैचुरल गैस प्लांट लगाया था और उनका भाई विनोद इस प्लांट के प्रबंधक है।

विनोद की पत्नी सीमा व इनकी बेटी और बेटा समालखा में ही रहते हैं। वहीं, 24 मार्च को इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने शहर पर हमला किया और विनोद व उनके साथियों का अपहरण कर लिया। आतंकियों ने विनोद व उसके साथियों की रिहाई के लिए एक बिलियन डॉलर की फिरौती मांगी है। सतेंद्र ने बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्रालय को विनोद के अपहरण की जानकारी देकर उनकी रिहाई व स्वदेश वापसी की अपील की है। वहीं प्रधानमंत्री कार्यालय व गृह मंत्रालय से अभी तक पीड़ित परिवार को कोई मदद नहीं मिली है। विनोद की पत्नी सीमा ने बताया कि विनोद सन् 2015 में मोजाम्बिक गए थे।

इसके बाद हर रोज पति से फोन पर बातचीत होती थी। 24 मार्च को उनकी विनोद के साथ आखिरी बार बातचीत हुई थी। विनोद का जब काफी दिनो तक फोन नहीं आया तो उन्होंने पति से संपर्क साधने का प्रयास किया तो 20 अप्रैल को उनके अपहरण की जानकारी मिली। उन्होंने बताया कि पति विनोद के परिजन और वे, लगातार भारत सरकार, मोजाम्बिक के दूतावास, फ्रांस की कंपनी से विनोद की रिहाई की अपील कर रहे हैं, लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई।

और पढ़ें
Next Story