Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haryana Budget 2021 : हरियाणा वालों को मनाेहर लाल ने क्या दिया, जानिए बजट की प्रमुख बातें

बजट पेश करते हुए कहा सीएम ने कहा कि बजट कोरोना के ऐसे साये में तैयार किया है जो पहले कभी सामने नहीं आया है।

Haryana Budget 2021 : हरियाणा वालों को मनाेहर लाल ने क्या दिया, जानिए बजट की प्रमुख बातें
X

Haryana : मुख्यमंत्री ने वित्तीय वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते हुए कहा कि बजट कोरोना के ऐसे साये में तैयार किया है जो पहले कभी सामने नहीं आया है। यह बजट हरियाणा को विकास पथ पर आगे बढ़ाने वाला होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा देश का पहला राज्य है जिसने आत्मनिर्भर भारत पहल के अंतर्गत 'डिस्ट्रेस राशन टोकन स्कीम' लागू की जिसके तहत ऐसे परिवारों को प्रति परिवार 5 किलो गेहूं और 1 किलो दाल दी गई जिनके पास राशन कार्ड नहीं थे। उन्होंने कहा कि हमने स्वास्थ्य कृषि और बुनियादी ढांचे की पहचान उन प्रमुख प्राथमिकता वाले क्षेत्रों के रूप में की है, जिन पर हमें रिकवरी और पुनरोत्थान के लिए ध्यान केन्द्रित करने की आवश्यकता है।

सीएम मनोहरलाल ने 2 घंटे 40 मिनट में 63 पेजों का बजट बिना किसी ब्रेक के पढ़ा, बीच में दो से तीन बार पानी जरूरत पिया। पेंशन बढ़ोत्तरी का इंतजार कर रहे हरियाणा के बुजुर्गों की पेंशन में ढ़ाई सौ रुपये की बढ़ोत्तरी कर दी गई है, अर्थात अब यह ढाई हजार मिलेगी।। इस बार के बजट साइज में 13 फीसदी की बढ़ोत्तरी की है, इस तरह इस बार का बजट 1.55 लाख करोड़ का हो गया है। जिसमें स्वास्थ्य, शिक्षा, लघु सिंचाई, छोटे किसानों, कृषि आदि के बजट में इजाफा करते हुए फोकस किया गया है।

हरियाणा विधानसभा का बजट पेश करने के लिए बीएसी की मीटिंग में 12 मार्च की तारीख तय की गई थी। शुक्रवार को सदन में थोड़ी देर पहले पहुंचे सीएम ने परंपरागत औपचारिकता पूर्ण की। इसके बाद में सही 12 बजे उन्होंंने बजट पेश करने की शुरुआत कर दी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शुरुआत में कहा आजादी की 15 अगस्त को पड़ने वाली 75वीं वर्षगांठ को समर्पित करते हुए कहा 91 साल पहले महात्मा गांधी जी ने 12 मार्च, 1930 को दांडी मार्च की शुरुआत की थी। पीएम ने भी दांडी मार्च यात्रा रवाना की है। इस बार के बजट में भी सांसदों, विधायकों व पूर्व विधायकों के साथ में बजट को लेकर विचार विमर्श किया गया है। सीएम ने कहा कि इस बार सुझाव कम व अपने इलाके के कामकाज के बारे में ज्यादा सुझाव भेजे गए हैं।

जानिए बजट की प्रमुख बातें

- 1 लाख 55 हजार 645 करोड़ के बजट का प्रस्ताव किया।

- प्रदेश में 9वीं से 12वीं तक के सभी बच्चों को मुफ्त शिक्षा मिलेगी।

- शिक्षा के लिए 18410 करोड रुपए का प्रावधान

- वृद्धावस्था पेंशन 2500 रुपये की गई।

- 884 करोड रुपए रोजगार के लिए खर्च किए जाएंगे।

- 868 करोड रुपए कौशल विकास पर खर्च किए जाएंगे।

- एसवाईएल नहर नहर के लिए ़100 करोड़।

- श्रम विभाग के लिए 71 करोड़ रुपये।

- 350 चिकित्सा अधिकारियों और 60 दंत चिकित्सक मिलेंगे।

- यमुनानगर, कैथल और सिरसा में मेडिकल कॉलेज बनेेंगे।

- मुख्यमंत्री 5080 गांवो में 24 घंटे बिजली सुनिश्चित की है।

- प्रदेश में युवाओं को 50 हजार नौकरियां दी जाएंगी।

- प्रदेश के हर नागरिक अस्पताल में कम से कम 200 बेड उपलब्ध करवाए जाएंगे।

- सिंचाई के लिए 5081 करोड रुपये का प्रावधान किया गया।

- जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी के लिए 3402 करोड रुपये का प्रावधान।

- खेल के लिए 7731 करोड़ का बजट रखा गया

- कैशलेस स्वास्थ्य योजना का विस्तार होगा।

- परिवार समृद्धि योजना के लिए 10798 करोड रुपये का प्रावधान।

- पुलिस विभाग के लिए 5779 करोड रुपये

- पर्यटन 113 करोड, खनन एवं भूविज्ञान 131 करोड़ ।

- पुरातत्व एवं अभिलेखागार के लिए 73 करोड ।

- मुख्यमंत्री ने किसान मित्र योजना शुरू करने की घोषणा की. इस योजना के तहत किसानों को कई सुविधाएँ प्रदान की जाएंगी. योजना में विभिन्न बैंकों की साझेदारी में राज्य में 1000 किसान एटीएम स्थापित करने की परिकल्पना की गई है।

- 'मुख्यमंत्री अंत्योदय उत्थान अभियान' की घोषणा की. इस अभियान के तहत 1 लाख निर्धनतम परिवारों की पहचान करके उनका आर्थिक उत्थान सुनिश्चित किया जाएगा।

Next Story