Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आदेश : किसी को सीएमओ की इजाजत के बिना ऑक्सीजन सिलेंडर न दे कंपनी

सीएमओ को निर्देश दिए कि वेंडरों द्वारा उपलब्ध करवाई जाने वाली आक्सीजन से काम न चले तो इसके लिए अन्य स्रोत ढूंढे जाएं।

आदेश :  किसी को सीएमओ की इजाजत के बिना ऑक्सीजन सिलेंडर न दे कंपनी
X

उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार

रोहतक : डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने ऑक्सीजन सप्लाई कर रही कम्पनियों को निर्देश दिए कि प्रशासन के अलावा अगर कोई निजी व्यक्ति अपने लिए ऑक्सीजन मांगे तो सीएमओ की अनुमति के बगैर उसे न दिए जाए। उन्होंने सीएमओ को निर्देश दिए कि वेंडरों द्वारा उपलब्ध करवाई जाने वाली आक्सीजन से काम न चले तो इसके लिए अन्य स्त्रोत ढूंढे जाएं।

उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने उद्योगपतियों व समाजसेवियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि जिस उद्योग में आक्सीजन का प्रयोग होता है तो वे उद्यमी बचने वाली आक्सीजन प्रशासन को उपलब्ध करवाएं। प्रशासन का सहयोग करें।

कोविड केयर सेंटरों में जनसेवा संस्थान ने 200 बेड, माइक्रोन उद्योग ने 50 बेड और साथ में आक्सीजन, डीपीएस ग्रुप ने 80 बेड व आक्सीजन, सांपला बेरी रोड एसोसिएशन ने 80 बेड, रोहतक इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने 45 बेड व लघु भारती उद्योग ने 55 बेड की सुविधा देने का आश्वासन दिया। ये उद्योग व संस्थाएं इन बेड पर आने वाले संक्रमित लोगों को बिजली, पानी, खाना, शौचालय व अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाएंगे और जरूरत पड़ने पर प्रशासन चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाएगा। कैप्टन मनोज कुमार ने उद्योगों में कार्य कर रहे प्रवासी मजदूरों का आह्वान किया कि सरकार का लॉकडाउन लगाने जैसा कोई विचार नहीं है इसलिए बिना किसी घबराहट के कार्य कर सकते हैं।

Next Story