Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

...तो अंधकार में डूबने वाली हैं इन नगर पंचायतों की सड़कें

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले में कई ऐसे बड़े विभाग हैं जिनका लाखों रुपयों का बिजली बिल बकाया है। बड़े बकाएदारों में गौरेला नगर पंचायत पहले नंबर पर है, जिसका लगभग 1 करोड़ 29 लाख रूपए का बिल बकाया है। अब बिजली विभाग क्या करने जा रहा है, पढ़िए...

...तो अंधकार में डूबने वाली हैं इन नगर पंचायतों की सड़कें
X

पेंड्रा। बिजली विभाग ने बड़े बिल बकायादारों पर कार्रवाई करना शुरू कर दिया है। जल्द ही गौरेला और पेंड्रा नगर पंचायत क्षेत्र के अंधेरे में डूब जाने का अंदेशा है। दरअसल गौरेला-पेंड्रा- मरवाही जिले में कई ऐसे बड़े विभाग हैं जिनका लाखों रुपयों का बिजली बिल बकाया है। बड़े बकाएदारों में गौरेला नगर पंचायत पहले नंबर पर है, जिसका लगभग 1 करोड़ 29 लाख रूपए का बिल बकाया है। वहीं पेंड्रा नगर पंचायत का करीब 30 लाख रुपए का बिल बकाया है।

इसी तरह स्वास्थ्य विभाग का लगभग 50 लाख 98 हजार रुपए, शिक्षा विभाग का 1 करोड़ 80 लाख रुपये तो वहीं ग्राम पंचायतों का लाखों में बिल बकाया है। विद्युत विभाग आम नागरिकों से बिजली बिल तो वसूल लेता या तो उनका कनेक्शन काट देता है, लेकिन शासकीय विभागों से बकाया राशि वसूलने में फिसड्डी साबित हो रहा है। ये हाल सिर्फ गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले बस का नहीं है, बल्कि प्रदेश के सभी जिलों का यही हाल है। जिसका खामियाजा कहीं न कहीं आम उपभोक्ताओं को उठाना पड़ रहा है। तो वहीं अब गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के शासकीय कार्यालयों में लाखों के बकाया बिजली बिल को लेकर बिजली विभाग अब सख्त रुख अपनाने मजबूर है। बिजली विभाग के द्वारा जिले के दोनों नगर पंचायतों की स्ट्रीट लाइट कनेक्शन काटने की तैयारी है। अब देखने वाली बात यह है आखिर कब तक दोनों नगर पंचायत के लोग अंधेरे में रहेंगे और कब तक इन बड़े बकायादारों से विद्युत विभाग बिल की राशि वसूल पाता है।





Next Story